सरेंडर करने को कहा तो नहीं माने, जवानों ने जैश-ए-मोहम्मद के 3 आतंकियों को भून डाला

जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है। बीते दिन उत्तराखंड के एक और लाल ने देश के लिए अपनी शहादत दी। वहीं वहां अभी भी सेना के जवान आतंकियों को मुंह तोड़ जवाब दे रहे हैं। बता दें कि सुरक्षाबलों ने आतंकरोधी अभियान को जारी रखते हुए बड़गाम के जालूवा में छिपे तीन आतंकवादियों को मार गिराया है।

जानकारी मिली है कि आतंकियों को मारने से पहले सुरक्षाबलों ने रात से लेकर सुबह तक उन्हें कई बार सरेंडर करने को कहा लेकिन वो नहीं माने। उन्हें कई बार मौका दिया गया। इसके लिए गांव के बुजुर्गों और मौलवियों की मदद भी ली गई लेकिन जब उन्होंने हथियार डालने से इंकार कर दिया था तो सुरक्षाबलों ने उन्हें ढेर कर दिया। सुरक्षाबलों ने एक के बाद एक कर तीनों आतंकियों को ढेर कर दिया।

जानकारी मिली है कि मारे गए आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के हैं। आइजीपी कश्मीर विजय कुमार ने भी मुठभेड़ में मारे गए तीनों आतंकियों को जैश सदस्य बताते हुए कहा कि एक आतंकी की पहचान वसीम निवासी श्रीनगर के रुप में की गई है। उन्होंने बताया कि बाकी दोनों आतंकियों की भी पहचान की जा रही है। उनके हथियार कब्जे में लिए गए है। आस पास सर्च ऑपरेशन चलाया गया और पुष्टि की गई कि अब वहां कोई अन्य आतंकी नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here