फूलों की घाटी कैसे पहुंचे, यहां पढ़ें पूरी जानकारी, पर्यटक कर रहें हैं दीदार

उत्तराखंड की प्रसिद्ध फूलों की घाटी का अब पर्यटक दीदार कर सकेंगे। फूलों की घाटी पर्यटकों के लिए खोल दी गई है। बुधवार को घांघरिया चौकी से हरी झंडी दिखाकर घाटी के लिए पर्यटकों का पहला दल रवाना किया गया। पहले दिन घाटी में 75 पर्यटक पहुंचे। इनमें से कई पर्यटक घाटी खुलने का चार दिन से इंतजार कर रहे थे।

वन विभाग के सूत्रों के अनुसार अभी फूलों की घाटी में मुख्य रूप से प्रिमूला, पोटेटिला, वाइल्ड रोज, कोवरा लिलि सहित करीब 300 से अधिक प्रजाति के फूल खिले हुए हैं। जुलाई और अगस्त महीने में घाटी में और फूल खिल जाएंगे।

फूलों की घाटी के खुलने का पर्यटक पूरे साल इंतजार करते हैं। इस मौसम में बड़ी संख्या में पर्यटक यहां पहुंचते हैं। न सिर्फ देश भर से बल्कि विदेशों से भी पर्यटक यहां आते हैं। 87.5 वर्ग किमी में फैली यह घाटी जैव विविधता से भरी है। यहां प्राकृतिक तौर पर खिलने वाले फूलों के अलावा प्राकृतिक स्लोप भी पर्यटकों के रोमांच का केंद्र होते हैं। फूलों की घाटी में पहले दिन 5 पर्यटकों में  से स्पेन की 12  महिला पर्यटक भी शामिल हैं।

 how-to-reach-Valley-of-flowers

फूलों की घाटी कैसे जाएं

अगर आपको फूलों की घाटी जाना है तो आपको एक बात पहले ही समझ लेनी होगी कि आपको पैदल ट्रैक करना ही पड़ेगा। कोई भी वाहन आपको फूलों की घाटी तक नहीं ले जा सकता। आपको पहले ही उस वाहन को छोड़ना होगा।

 

अब आपको बताते हैं कि फूलों की घाटी कैसे पहुंचा जाए? फूलों की घाटी पहुंचने के लिए आपको सबसे नजदीक का हवाई अड्डा देहरादून में मिलेगा। आप देहरादून के जॉलीग्रांट हवाईअड्डे पर पहुंचे और फिर यहां से गोविंदघाट के लिए टैक्सी बुक करें। ये दूरी लगभग 300 किमी की है और पहाड़ी रास्ता है। लिहाजा इस यात्रा में आपको मैदानी रास्तों से अधिक समय लगेगा। गोविंद घाट पहुंचने के बाद आपको पैदल घांघरिया जाना होगा। यहां आपको फूलों की घाटी का पास बनवाना होगा। इसके बाद आपको ट्रैक करते हुए फूलों की घाटी जाना होगा। गोविंद घाट से फूलों की घाटी तक पहुंचने के लिए आपको लगभग 19 किमी तक का ट्रैक करना होगा।

how to reach Valley-of-flowers 2

अगर आप ट्रेन से आना चाहता हैं तो आपको सबसे नजदीक का रेलवे स्टेशन ऋषिकेश मिलेगा। यहां से टैक्सी के जरिए लगभग 250 किमी दूरी तय करनी होगी और गोविंद घाट पहुंचना होगा।

आप देहरादून से घांघरिया के लिए हेलीकॉप्टर बुक कर सकते हैं लेकिन आगे का रास्ता आपको पैदल ही तय करना होगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here