प्रदर्शन के दौरान हरीश रावत को लगी चोट, केंद्र पर तानाशाही का आरोप

HARISH RAWAT

दिल्ली में महंगाई के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत चोटिल हो गए हैं। हरीश रावत को पुलिस ने टांग कर वैन में बैठा दिया। इस दौरान हरीश रावत ने केंद्र पर तानाशाही रवैया अपनाने का आरोप लगाया है।

दिल्ली में कांग्रेस ने महंगाई के खिलाफ जबरदस्त प्रदर्शन किया है। देश भर से कांग्रेस नेता दिल्ली में प्रदर्शन के लिए पहुंचे थे। इसी दौरान उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी इस प्रदर्शन में शामिल होने के लिए पहुंचे थे। प्रदर्शन के दौरान हरीश रावत को पुलिस ने रोकने की कोशिश की। इस दौरान हरीश रावत सड़क पर ही बैठ गए। पुलिस कर्मियों ने उन्हें हर तरफ से घेर लिया और उठा कर ले जाने की कोशिश की। लेकिन हरीश रावत लगातार इसका विरोध कर रहे थे। इसी धक्कामुक्की में हरीश रावत के हाथ में चोट भी लगी है। हरीश रावत के बाएं हाथ से ब्लीडिंग शुरु हो गई। खींचतान में हरीश रावत के बाएं हाथ में चोट लगने की खबरें हैं।

दिल्ली में कांग्रेस का महंगाई के खिलाफ जबरदस्त प्रदर्शन, राहुल, प्रियंका हिरासत में

हालांकि हरीश रावत काफी देर तक सड़क पर बैठे रहे और पुलिस का विरोध करते रहे। इसके बाद पुलिस कर्मियों ने उन्हें लगभग टांग कर उठा लिया और पुलिस वैन में बैठा दिया।

इस दौरान मीडिया से बातचीत में हरीश रावत ने आरोप लगाया है कि केंद्र तानाशाही पर उतर आया है। महंगाई के खिलाफ विपक्ष की आवाज को दबाने की कोशिश की जा रही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here