हरीश रावत देंगे गैरसैंण में धरना, सदन में कांग्रेस विधायक गरजे

congress protest

उत्तराखंड के बजट सत्र की शुरुआत बेहद गर्मागर्म माहौल में हुई है। विपक्ष में बैठी कांग्रेस ने पहले ही दिन सरकार पर हमला बोला है। विपक्ष ने ग्रीष्म कालीन सत्र को गैरसैंण में किए जाने की मांग को लेकर विधानसभा की सीढ़ियों पर धरना दिया है। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने एक वीडियो जारी कर कहा है कि वो 15 तारीख को गैरसैंण के भराणीसैंण में धरना देंगे।

विधानसभा के बजट सत्र के पहले दिन सत्र की कार्रवाई 11 बजे शुरु हुई। इससे पहले ही कांग्रेस के विधायक मंडप की सीढ़ियों पर धरने पर बैठ गए। कांग्रेस विधायकों की मांग है कि राज्य का ग्रीष्म कालीन सत्र देहरादून की बजाय गैरसैंण में होना चाहिए। कांग्रेस के विधायकों का ये धरना काफी देर तक चलता रहा।

बड़ी खबर। AAP के प्रदेश अध्यक्ष दीपक बाली का इस्तीफा, आज BJP में होंगे शामिल

वहीं कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने गैरसैंण के भराणीसैंण स्थित विधानसभा भवन के बाहर धरना देने का ऐलान किया है। हालांकि उनके कार्यक्रम में कुछ बदलाव हुआ है। पहले वो 14 जून को ही धरना देने वाले थे लेकिन फिलहाल वो दिल्ली में हैं और यही वजह है कि उन्होंने अपने कार्यक्रम में बदलाव किया है। अब वो 15 तारीख को भराणीसैंण पहुंच रहें हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं से 15 तारीख को गैरसैंण पहुंचने का आह्वान किया है।

आपको बता दें कि त्रिवेंद्र सरकार में गैरसैंण को राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित किया गया था। इस लिहाज से राज्य विधानसभा का ग्रीष्मकालीन सत्र वहीं आयोजित किया जाना चाहिए था। हालांकि सरकार ने पहले यही प्रस्ताव रखा था लेकिन बाद में कुछ वजहों से ग्रीष्मकालीन सत्र देहरादून में ही कराने का फैसला लिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here