हरक सिंह रावत ने पिछले 4 सालों में कोटद्वार की जनता को दी ये सौगातें

कोटद्वार : वन, पर्यावरण एवं ऊर्जा मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत ने कहा कि पिछले चार सालों में कोटद्वार विधानसभा में एनएच और विधायक निधि को छोड़कर सड़कों के निर्माण के लिए करीब 75.76 करोड़ की धनराशि स्वीकृत ‌की। साथ ही इस वित्तीय वर्ष में अब तक 20 करोड़ की धनराशि सड़कों के लिए स्वीकृत कराई गई है.

कोटद्वार से श्रीनगर तक आलवेदर रोड का निर्माण कराया जाएगा-हरक सिंह

तहसील चौराहे स्थित अपने नए कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में वनमंत्री डॉ. हरक सिंह रावत ने कहा कि केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने उनके अनुरोध पर मेरठ से कोटद्वार तक 4 लेन सड़क को स्वीकृति प्रदान की। इसके लिए वन भूमि हस्तांतरण के साथ ही स्टीमेट तैयार हो चुका है। इसके अलावा कोटद्वार से श्रीनगर तक आलवेदर रोड का निर्माण कराया जाएगा।इसके लिए कोटद्वार से गुमखाल और गुमखाल से सतपुली तक वन भूमि का हस्तांरणऔर पेड़ छपान का कार्य अंतिम चरण में है।

अंदरूनी गली मोहल्लों को जोड़ने वाली 90 सड़कों के लिए 12.40 करोड़ की स्वीकृति-मंत्री

हरक सिंह रावत ने बताया कि लालढांग चिलरखाल मार्ग को छोड़कर अन्य अंदरूनी गली मोहल्लों को जोड़ने वाली 90 सड़कों के लिए 12.40 करोड़ की स्वीकृति कराई गई है। कलालघाटी में डबल स्पान पुल के द्वितीय चरणके लिए 19 करोड़ और कोल्हू नदी में डबल स्पान पुल के लिए प्रथम चरण की स्वीकृति मिल चुकी है। सड़कों के लिए 10 करोड़ के प्राक्कलन शासन को भेजेगए हैं। एक माह के भीतर इनकी भी स्वीकृति करा दी जाएगी। लालबत्ती चौराहे से दुर्गापुर तक मुख्य सड़क का डामरीकरण हो चुका है। इसके अलावा ऊर्जानिगम को लाइन शिफ्टिंग, ट्रांसफार्मरों को अपग्रेड करने के लिए 5 करोड़ की धनराशि स्वीकृत की गई है।

खंभों की शिफ्टिंग के लिए 3 करोड़ रुपये दिए गए हैं-हरक सिंह

मंत्री हरक सिंह रावत ने कहा कि खंभों की शिफ्टिंग के लिए 3 करोड़ रुपये दिए गए हैं। भूमिगत बिजली लाइनों के लिए 150 करोड़ का खर्चा आएगा। प्रथम चरण में पुरानी नगर पालिका क्षेत्र जहां आबादी का घनत्व ज्यादा है के लिए 50 करोड़ का स्टीमेट तैयार कर लिया गया है। इसकी स्वीकृति जल्द ही मिल जाएगी। खोह, सुखरो, मालन सहित शहर के चार बड़े पुलों पर 10-10 स्ट्रीटलाइटें और मुख्य चौराहों में हाई मास्क लाइट लगाई जा रही हैं। 2000 हजारस्ट्रीट लाइटें मुख्य मार्गों एनएच, देवीरोड़, डिग्री कालेज मार्ग,कलालघाटी आदि क्षेत्रों मेंु लगाई गई हैं। साथ ‌ही राजनीतिक कारणों सेजिन वार्डों में स्ट्रीट लाइटें नहीं लग पाई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here