VIDEO : यूक्रेन के शहरों पर बरस रहे बारूद, बंकर में छिपे लक्सर के छात्र ने सुनाई आपबीती

लक्सर : रूसी सेना के हमला करने के बाद यूक्रेन में हालात बिगड़ते जा रहे हैं। अपनी जान बचाने के लिए लोगों ने बंकरों में शरण ले रखी है, वहां पानी की सप्लाई भी नहीं हो रही है। ऐसी परिस्थितियों में यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों के परिजन काफी परेशान हैं। लक्सर के रहने वाले आशुतोष शर्मा भी यूक्रेन में फंसे हुए हैं। उन्होंने ही फोन पर परिजनों को अपनी आपबीती सुनाई लक्सर निवासी संजीव शर्मा का परिवार इन दिनों काफी परेशान है। उनका बेटा आशुतोष शर्मा यूक्रेन में फंसा हुआ है। आशुतोष शर्मा यूक्रेन के खारकीव शहर में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहा हैं.

आशुतोष शर्मा के परिजनों ने केंद्र और राज्य सरकार से गुहार लगाई है कि सभी भारतीयों को यूक्रेन से सुरक्षित निकाला। जाए। यूक्रेन में फंसे आशुतोष शर्मा के पिता संजीव शर्मा ने बताया कि उनका बेटा आशुतोष शर्मा साल 2019 में एमबीबीएस की पढ़ाई करने यूक्रेन गया था। पिछले साल मार्च में वह घर आया था। उन्होंने बताया कि उनकी आज ही फोन पर अपने बेटे आशुतोष से बात हुई थी। आशुतोष ने बताया कि फिलहाल वो वहां पर सुरक्षित हैं लेकिन रूस के हमले के बाद यूक्रेन में जिस तरह के हालात बन गए है उससे वे काफी चिंतित हैं।

आशुतोष ने घरवालों को बताया था कि आज 23 फरवरी सुबह पांच बजे उन्हें धमाकों की आवाज सुनाई थी तभी से वे परेशान है सभी रास्ते बंद कर दिए गए है पानी की सप्लाई भी बंद कर दी गई है आशुतोष ने घरवालों को बताया कि वहां पर बिल्डिंग के नीचे बंकर बने हुए हैं, जिसमें सभी लोग सुरक्षित है मेट्रो में भी खाना पीना भी फ्री कर दिया है रूस ने यूक्रेन के काफी हिस्से पर कब्जा कर लिया है खारकीव का एयरपोर्ट भी बंद कर दिया है और एक एयरपोर्ट उड़ा दिया गया है भारतीयों को यूक्रेन से निकलने का कोई रास्ता नजर नहीं आ रही है कॉलेज मैनेजमेंट से बात की गई है उन्होंने बोला है कि जो लोग जाना चाहते हैं वो जा सकते है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here