उत्तराखंड में शिक्षकों और शिक्षणेत्तर कार्मिकों के लिए खुशखबरी, शिक्षा सचिव के जिलाधिकारियों को ये निर्देश

देहरादून : उत्तराखंड में शिक्षकों और शिक्षणेत्तर कार्मिकों के लिए खुशखबरी है। उनका कोविड-19 टीकाकरण प्राथमिकता से किया जाएगा। शिक्षा सचिव राधिका झा से वार्ता के बाद स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने सभी जिलाधिकारियों को इस संबंध में निर्देश जारी किए हैं। सरकार सोमवार से राज्य में सरकारी और निजी विद्यालयों को खोल चुकी है। विद्यालयों में शिक्षकों व शिक्षणेत्तर कार्मिकों व छात्र-छात्राओं का कोरोना टीकाकरण प्राथमिकता से कराने की तैयारी है।

शिक्षा सचिव राधिका झा ने इस संबंध में स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी से वार्ता की। वार्ता में सहमति बनी कि शिक्षकों व शिक्षणेत्तर कार्मिकों को प्राथमिकता के साथ टीके लगाए जाएंगे। स्वास्थ्य सचिव ने जिलाधिकारियों को टीकाकरण के लिए सभी शिक्षकों की मैपिंग कराने के निर्देश दिए। इससे यह पता चल सकेगा कि जिले में कितने शिक्षकों व कर्मचारियों का टीकाकरण हो चुका है।

शिक्षा सचिव राधिका झा ने बताया कि अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, नैनीताल, उत्तरकाशी, हरिद्वार, पौड़ी, चमोली, रुद्रप्रयाग व ऊधमसिंहनगर में मई व जून से ही प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि देहरादून व चंपावत में प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण शुरू कर दिया गया है। पिथौरागढ़ व टिहरी से अभी टीकाकरण की सूचना नहीं मिली है। सीईओ को दिए निर्देशशिक्षा सचिव ने सभी मुख्य शिक्षाधिकारियों को जिलों में जिलाधिकारियों से समन्वय स्थापित कर प्राथमिकता के आधार पर शिक्षक व कर्मचारियों का टीकाकरण कराने के निर्देश दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here