देहरादून मिलिट्री अस्पताल से फर्जी सूबेदार गिरफ्तार, युुवती को ये बोलकर इम्प्रेस करने लाया था

देहरादून के कैंट स्थित मिलिट्री अस्पताल में घुस रहे एक फर्जी सूबेदार को सेना पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जानकारी मिली है कि फर्जी सूबेदार अपनी गर्लफ्रेंड के साथ आया था और रौब दिखा रहा था। सेना पुलिस और इंटेलीजेंस ने दोनों से काफी देर तक युवक से पूछताछ की। इसके बाद सेना पुलिस ने युवक और युवती को कैंट कोतवाली पुलिस को सौंप दिया। युवक को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

ये बोलकर लाया था युवती को कैंट

मिली जानकारी के अनुसार युवक एक युवती के साथ आया था। जिसे उसने खुद को सेना में अधिकारी बताया था और एमएच में नौकरी दिलाने का झांसा दिया था। वह युवती को किसी से मुलाकात कराने के बहाने कैंट में लेकर पहुंचा था। इस मामले में कैंट कोतवाली इंस्पेक्टर विद्याभूषण नेगी ने बताया कि कैंट क्षेत्र में तैनात सेना पुलिस को गुरुवार शाम एक युवक सेना की वर्दी में एमएच की तरफ जाते देखा। जिसके साथ एक युवती भी थी। युवक के हाव-भाव देखकर सेना पुलिस को उस पर शक हुआ औऱ उसे रोका। पूछताछ में पता चला कि वो सूबेदार नहीं है बल्कि फर्जी सूबेदार बना है।

दून के एक विश्वविद्यालय से बी. फार्मा की कर रहा पढ़ाई

जानकारी मे पता चला कि युवक दून के एक विश्वविद्यालय से बी. फार्मा की पढ़ाई कर रहा है। युवक की पहचान कामख्या देव(22) निवासी बडियार, रांची (झारखंड) के रूप में हुई। इंस्पेक्टर ने बताया पूछताछ में पता चला है कि युवक के साथ आई युवती भी उसी विश्वविद्यालय में पढ़ाती है। युवक ने युवती को कहा था कि वो असम राइफल में असिस्टेंट कमांडेंट के रूप में तैनात है और वो उसकी नौकरी एमएच में लगवा सकता है। युवक ने युवती को नौकरी लगवाने का झांसा दिया था। बताया कि इसकी जांच की जा रही है कि युवक शिक्षिका को ठगी की नीयत से एमएच लेकर जा रहा था या फिर किसी और वजह से। दोनों से पूछताछ जारी है। वहीं इसकी भी जानकारी ली जा रही है कि युवक सेना की वर्जी कहां से लाया और कहां से खरीदी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here