प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने लौटाया पार्टी से निष्कासित खजान पांडे का सम्मान, भव्य स्वागत

हल्द्वानी- चुनावी सीजन में हर पार्टी अपना कुनबा बढ़ाने में जुटी है। भाजपा से लेकर कांग्रेस में दिग्गजों का पाला बदलने का सिलसिला जारी है। वहीं आज कांग्रेस से निष्कासित पूर्व प्रदेश महासचिव खजान पांडे की पार्टी में वापसी हो गई है।कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने उनका सम्मान वापस लौटाया है। कांग्रेस कार्यालय स्वराज आश्रम में खजान पांडे का जोरदार स्वागत किया गया। खजान पांडे ने कहा कि मैं कांग्रेस का सच्चा सिपाही हू और मैं पार्टी को और मजबूत करुंगा।

खजान पांडे ने पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं का धन्यवाद किया। लेकिन आपको बता दें कि खजान पांडे को निष्कासित करने की बात को प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने नकारा। जानकारी मिली है कि2022 विधानसभा चुनाव में खजान पांडे ने हल्द्वानी से दावेदारी की है।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने लौटाया सम्मान

बता दें कि कुछ ही दिन पहले कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने पत्र लिखकर यह कहा है की खजान पांडे कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ और सक्रिय कार्यकर्ता हैं और उनके निष्कासन से संबंधित को भी पत्र या अभिलेख पार्टी के पास नहीं है। ऐसे में उनका निष्कासन की बातें पूरी तरह से गलत है और कांग्रेस के मजबूत स्तंभ के तौर पर पार्टी के साथ खड़े हैं।वह पहले की तरह मजबूत कांग्रेसी के तौर पर काम करते रहेंगें, वही कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के द्वारा लिखे गए पत्र के बाद वरिष्ठ कांग्रेस नेता खजान पांडे ने गणेश गोदियाल का धन्यवाद किया है।

इसलिए किया था प्रीतम सिंह ने निष्कासित

आपको बता दें कि 2018 में हल्द्वानी नगर निगम चुनाव के दौरान उत्तराखंड कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व प्रदेश महासचिव खाजन पांडे को तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह द्वारा पार्टी से यह कहकर निष्कासित कर दिया था कि उन्होंने हल्द्वानी नगर निगम चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के खिलाफ दुष्प्रचार किया था। हल्द्वानी नगर निगम से कांग्रेस के प्रत्याशी के रूप में सुमित हृदयेश ने चुनाव लड़ा था और वह कुछ अंतर से चुनाव हार गए थे, जिसके पास पार्टी द्वारा कार्रवाई करते हुए पूर्व प्रदेश महासचिव एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता खजान पांडे को निलंबित कर दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here