उत्तराखंड से बड़ी खबर : इस अस्पताल में कोरोना मरीजों के मोबाइल चुरा रहे थे कर्मचारी, ऐसे हुआ खुलासा

 

देहरादून: कोरोना काल में जहां लोग संकट में। वहां, कुछ ऐसे लोग भी हैं, जिनको कोरोना मरीजों के लिए आफत बने हुए हैं। कुछ मुनाफाखोरी कर लोगों को लूट रहे हैं, तो राजधानी देहरादून के सुभारती अस्पताल में ऐसा मामला सामने आया है, जिसने सबको चैंका दिया। यहां के कर्मचारी मरीजों के मोबाइल फोन चुरा रहे थे। पुलिस ने मामले को खुलासा कर दिया है। इसमें अस्पताल के कर्मचारी भी शामिल पाए गए।

जानकारी के अनुसार सुनील गुप्ता के द्वारा चैकी झाझरा पर तहरीर दी गई कि उसकी पत्नी रीमा गुप्ता कोविड पॉजिटिव हैं। उनका इलाज सुभारती अस्पताल झाझरा से चल रहा है। उन्होंने जब पत्नी को फोन किया तो, उसका फोन स्विच ऑफ आ रहा था। जिसके बाद पत्नी से संपर्क किया तो उसने बताया कि फोन हॉस्पिटल से चोरी हो गया है। तहरीर के आधार पर थाना प्रेमनगर में तत्काल मुकदमा दर्ज किया गया।

थानाध्यक्ष प्रेम नगर ने तत्काल हेतु टीमें गठित कीं और कोविड मरीजों के मोबाइल फोनों को चोरी करने वालों के मामले में सुभारती अस्पताल में कर्मचारियों व अधिकारियों से पूछताछ की गई। पुलिस ने मामले में अफजल, शुभम और रवि को सुभारती अस्पताल चकराता रोड के पास से चोरी मोबाइलो के साथ गिरफ्तार किया। तीनों ही अस्पताल में काम करते हैं। पूछताछ पर बताया कि जब मरीज आराम करता है और मौका देखकर उसके फोन को तुरंत छुपा कर अपने पास रख लेते हैं और फोन को स्विच ऑफ कर देते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here