देहरादून डबल मर्डर : पैसे के बदले दूसरे की पत्नी पर जता रहा था हक, रात को मिलकर पी थी शराब, फिर हुआ कुछ ऐसा

देहरादून। थाना पटेल नगर पुलिस ने दोहरे हत्याकांड के आरोपी को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया है। शुक्रवार देेेेर रात्रि स्थाानीय गुरप्रीत सिंह ने थाना पटेल में सूचना दी कि विद्या विहार फेस 2 लेन न. 09 पथरी बाग में एक व्यक्ति द्वारा दो लोगों का मर्डर कर दिया गया था। आरोपी को लोगो ने पकड़ कर कमरे में बंद कर दिया था।

सूचना पर पुलिस मौके पर पंहुची और कमरे का दरवाजा खोलकर अन्दर जाकर देखा तो  व्यक्ति फ्लैट में पिछले कमरे से बाहर निकल कर भाग चुका था। इस पर पुलिस द्वारा क्षेत्र में उसकी खोजबीन की गयी। काफी देर तलाशने के बाद आरोपी को घटना स्थल से कुछ दूरी पर ही घेरकर नाले के पास से समय 04.30 बजे पकड़ कर गिरफ्तार कर लिया गया।

पूछताछ में उसने अपना नाम हरद्वारी लाल पुत्र स्वर्गीय श्री बदलू हाल निवास विद्या विहार लेन नंबर 9 पथरी बाग थाना पटेल नगर व मूल पता ग्राम बरई थाना चंदौसी मुरादाबाद उम्र 47 वर्ष बताया। आरोपी ने बताया कि बबलू उसकी पत्नी और वो पहले लाल पुल के पास एक ही मकान में किराए पर रहते थे। पिछली 11 तारीख को ही वो तीनों इस मकान में रहने आए थे। सपना और उसके पति बबूल ने कई बार उससे पैसे उधार लिए थे और अभी भी दोनो ने उससे 40 हजार रुपये उधार लिये थे। इसी की एवज में मेरे सपना के साथ नाजायज ताल्लुक बन गये थे।

आरोपी ने बताया कि उसने दो-तीन बार सपना के साथ संबंध भी बनाए। 18 फरवरी की रात को उनके कुछ अन्य जानने वाले साथी लक्ष्मी, आतिफ और डबराल भी इसी फ्लैट में बबलू और सपना के साथ बैठकर शराब पी रहे थे। नशे की हालत में पैसों के लेन-देन को लेकर मेरी सपना और उसके पति के साथ कहासुनी हो गयी और इसी को लेकर हमारे बीच झगड़ा काफी बढ गया। झगडा बढता देखकर लक्ष्मी, आतिफ और डोभाल वहां से चले गये। उन लोगो के जाने के कुछ देर बाद हमारा झगडा शान्त हो गया।  सपना के साथ सम्बन्ध बनाने की कोशिश में उसका सपना और उसके पति बबलू ने विरोध किया तो फिर झगड़ा हुआ।

आरोपी ने पुलिस को बताया कि गुस्से में आकर उसने रसोई से तवा उठाया और सपना के सिर और  मुहं पर वार किया जिससे सपना मौके पर ही गिर गयी। उसे देखकर सपना का पति मेरी तरफ गुस्से से दौडा और उससे हाथापाई के दौरान मेरे सिर में चोट लग गयी। गुस्से में उसी तवे से सपना के पति बबलू के भी सिर वऔर चेहरे पर वार किया जिससे वह मौके पर ही मर गया। इसके बाद वो वहां से भागने लगा लेकिन काफी शोर- शराबा होने की वजह से कमरे के बाहर लोगो की भीड़ लग गई और उन्होंने उसे पकड़ लिया। लोगों ने उसी फ्लैट के अंदर कमरे में बन्द कर दिया। जिस पर वह पिछले कमरे से बाहर निकल कर भाग गया तथा पास के ही एक नाले के पास छुप गया। जहां से मैं पुन: भागने की फिराक में था लेकिन पुलिस की सक्रियता के कारण मैं घटना स्थल के पास से ही पकडा गया।

मृतकों साबी उर्फ सपना पत्नी राजेन्द्र सिंह डोगरा उम्र-27 वर्ष तथा राजेंद्र सिंह डोगरा पुत्र नरेंद्र डोगरा निवासी खालसा होटल घंटाघर देहरादून उम्र 35 वर्ष के शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here