मंत्री सतपाल महाराज ने जताई अस्पताल में डॉक्टर न होने पर नाराजगी, चिकित्सा उपकरणों के लिए दिए 13 लाख रुपये

पौड़ी : प्रदेश के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने आज जनपद के संबंधित अधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक कर कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने के लिए पूर्व से ही युद्धस्तर पर तैयारी करने निर्देश दिये। साथ ही कोविड-19 की गाइड लाइन का सख्ती से अनुपालन करवाने, टीकाकरण और कोरोना जांच बढ़ाने पर जोर देने को कहा।

मंत्री महाराज ने वर्चुअल बैठक कर एलोपैथिक चिकित्सालय, सिवाल पाबौं में डॉक्टर की नियुक्ति के बाद भी अस्पताल में डॉक्टर न होने पर नाराजगी जताई, जिस पर अधिकारियों ने बताया कि कोटद्वार में कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते डॉक्टरों की तैनाती कोटद्वार के अस्पताल में की गई है। कोटद्वार में कोरोना की स्थिति सामान्य होने के बाद एलोपैथिक चिकित्सालय में डॉक्टर की तैनाती कर दी जाएगी। पर्यटन मंत्री ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि कोविड-19 सैम्पल की रिर्पोट लोंगों को समय से उपलब्ध कराई जाये। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने निर्देश देते हुए कहा कि पाबौं ब्लॉक के चम्पेश्वर और सिवाल उप केंद्रों में कोरोना जांच बढ़ाई जाए। साथ ही उन्होंने क्वारंटीन केंद्रों में शौचालय, बिजली, पानी और भोजन की सुविधा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज की ओर से बैजरो और चैबट्टाखाल में लोगों को पीलिया और हेपेटाइटिस की जांच सुविधा उपलब्ध कराने के लिए चिकित्सा उपकरणों की खरीदारी के लिए 13 लाख रुपये दिए गए, जिससे जल्द ही चिकित्सा उपकरणों की खरीदारी कर लोगों को चिकित्सा सुविधा मुहैया कराई जाएगी। वहीं सतपुली के चिकित्सा केंद्र में अल्ट्रासाउंड मशीन लगाने के लिए अधिकारियों से प्रस्ताव मांगा गया है, प्रस्ताव मिलने के बाद जल्दी ही चिकित्सा केंद्र में अल्ट्रासाउंड मशीन लगा दी जाए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here