डीजीपी अशोक कुमार ने किया इंडो-नेपाल बॉर्डर का निरिक्षण, पुलिसकर्मियों की समस्याएं पूछी

उत्तराखण्ड के डीजीपी अशोक कुमार इन दिनों जहाँ अपने कुमाऊँ दौरे पर चल रहे हैं। वहीं आज डीजीपी अशोक कुमार चम्पावत जिले की बनबसा नेपाल सीमा के दौरे पर पहुँचे।इस दौरान डीजीपी ने बनबसा के पिलर नम्बर 7 आव्रजन चेकपोस्ट बैराज चौकी का निरीक्षण कर सीमा क्षेत्र में पुलिस की गतिविधियों की जानकारी ली। वहीं पुलिस अधिकारियों को सीमान्त क्षेत्र में बेहतर व सवेंदनशील पुलिसिंग करने के भी डीजीपी अशोक कुमार ने निर्देश दिए। मीडिया से रूबरू होते हुए डीजीपी ने कहा कि वह आज अपने कुमाऊँ दौरे पर चम्पावत जिले की बनबसा नेपाल सीमा पर पहुँचे हैं जहाँ पर उन्होंने बॉर्डर के मुद्दे,जवानों की समस्या सहित अन्य सीमा सुरक्षा के विषयों की जानकारी ली है।

डीजीपी अशोक कुमार ने आपने टारगेट के बारे में बताते हुए बताया कि उनका डीजीपी बनने के बाद उद्देश्य है कि उत्तराखण्ड पुलिस को संवेदनशील व स्मार्ट बनाया जाए।इसके लिए पुलिस के हथियार, उनके उपकरण, व तकनीकी सुविधा को बढ़ाने के लिए उन्होंने रोड मेप बनाया हुआ है। कई विषयों पर कार्य हो चुका है और साथ ही कई अन्य विषयों पर वर्तमान में योजना गतिशील है।उनका पूरा प्रयास है कि पुलिस को स्मार्ट व संवेदशील बना आमजन को पुलिस से सुलभ व आसानी के साथ न्याय मिल सके।साथ ही तकनीकी का सहारा ले अपराध को पुलिस नियंत्रित करने का कार्य करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here