खौफनाक। महिला ने पति को मार कर टुकड़े किए, फ्रिज में रखा, बेटे के साथ जाती थी फेंकने

delhi murder case
सीसीटीवी में दिख रही महिला

दिल्ली में श्रद्धा हत्याकांड से मिलता जुलता एक और मामला सामने आया है। यहां एक पत्नी ने अपने बेटे के साथ मिलकर अपने ही पति की हत्या कर दी। इसके बाद शव के टुकड़े कर अलग अलग स्थानों पर फेंक दिया। अहम बात ये है भी है कि इस हत्या का खुलासा श्रद्धा की हत्या की तहकीकात के दौरान हुआ।

जानकारी के मुताबिक दिल्ली के पांडव नगर में सोमवार को श्रद्धा मर्डर जैसा एक और केस सामने आया। एक महिला ने बेटे के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी। उसके 22 टुकड़े कर फ्रिज में रखे। रात के वक्त मां और बेटा टुकड़े फेंकने जाते थे। यह घटना सीसीटीवी में कैद हो गई। अब इस घटना के CCTV फुटेज सामने आए हैं। हत्या करीब 6 महीने पहले जून में की गई थी। दिल्ली क्राइम ब्रांच ने मां-बेटे को गिरफ्तार कर लिया है।

जो सीसीटीवी फुटेज सामने आया है वो 1 जून 2022 का है। फुटेज में रात करीब 12.44 पर दीपक हाथ में एक बैग लेकर जाता दिखाई दे रहा है। उसके पीछे मां पूनम भी दिखाई दे रही है। पुलिस ने कहा कि ये उन ट्रिप्स में से एक की फुटेज हैं, जिनमें वो टुकड़े फेंकने के लिए रात में जाते थे। दिन की भी एक फुटेज सामने आई है, पुलिस का कहना है कि इसमें वे टुकड़े फेंकने के लिए जगह की तलाश करने निकले थे।

श्रद्धा मर्डर केस की तहकीकात में खुलासा

दरअसल पुलिस को बॉडी पार्ट्स 5 जून को दिल्ली के पांडव नगर इलाके में पेट्रोलिंग करने के दौरान मिले थे। ये बुरी तरह सड़ चुके थे और इस वजह से इनकी पहचान मुश्किल हो गई थी। इसी बीच श्रद्धा मर्डर केस से जुड़ी जानकारियां सामने आने लगीं और पुलिस ने इस मामले को उससे जोड़कर जांच शुरू कर दी। अब पुलिस को जांच के दौरान पता चला है कि बॉडी अंजन दास की है जो त्रिलोकपुरी में रहते थे, हत्या भी वहीं की गई।

delhi murder case 1
इसी फ्रिज में रखे थे शव के टुकड़े

अवैध संबंधों का शक था

पुलिस ने सोमवार को बताया कि टुकड़े मिलने के बाद जांच शुरू हुई। आसपास के थानों में जाकर पुलिस ने जांच की तो कोई गुमशुदा नहीं था। हालांकि, सारे पुलिस स्टेशन के रिकॉर्ड्स की जांच करने पर अंजन दास की मिसिंग की जानकारी मिली। उसकी गुमशुदगी भी नहीं दर्ज की गई थी। वह 5-6 महीने से गायब था। वह अपनी पत्नी पूनम और बेटे दीपक के साथ रहता था। पूनम दूसरी पत्नी और दीपक उनका सौतेला बेटा था। पूनम को शक था कि बेटे दीपक की पत्नी पर अंजन की बुरी नजर है। इसीलिए हत्या की साजिश रची। त्रिलोकपुरी स्थित घर पर 30 मई को पूनम और दीपक ने अंजन को शराब पिलाई गई। उसमें नींद की गोलियां मिला दी गईं।

शराब पिलाने के बाद बाद अंजन की हत्या कर दी और रातभर के लिए बॉडी छोड़ दी। अगले दिन खून की सफाई की और लाश के टुकड़े-टुकड़े कर दिए। इसके बाद वे शरीर के टुकड़े 8-10 दिन तक फेंका। अंजन के सिर को गड्ढा बनाकर गाड़ दिया गया था। हत्या के बाद जब टुकड़े फ्रिज में रखे गए थे, तब घर में पेंट कराया गया ताकि बदबू को दबाया जा सके।

पुलिस ने बताया कि अंजन के घरवाले बिहार में रहते हैं और उनकी डीएनए मिलान के लिए भी पुलिस टीम वहां भेजी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here