उत्तराखंड के लिए बुरी खबर : 4 साल पहले आतंकियों से जीता लेकिन आज बीमारी से हार गया CRPF जवान

पौड़ी गढ़वाल समेत पूरे उत्तराखंड और देश के लिए बुरी खबर है। जी हां बता दें कि करीबन 4 साल पहले आतंकवादी हमले में घायल हुए सीआरपीएफ जवान सुखबीर सिंह (50) की मौत हो गई है। जानकारी मिली है कि वह किसी बीमारी से जूझ रहे थे और जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहे थे लेकिन आज वो जिंदगी की जंग हार गए.

मिली जानकारी के अनुसार उत्तराखंड में पौड़ी जिले के यमकेश्वर के मल्ला बणास निवासी सुखबीर सिंह लंबे समय तक आर्मी अस्पताल भर्ती रहे। पिछले एक सप्ताह से गुड़गांव के एक निजी अस्पताल में उनका उपचार चल रहा था। सोमवार सुबह उनके पैतृक गौरी घाट में उन्हें अंतिम विदाई दी गई।

बता दें कि 18 सितंबर 2016 को उरी में हुए आतंकी हमले में सुखबीर सिंह बिष्ट के पेट में गोली लगी थी वो गंभीर रूप से घायल हो गए थे। लंबे समय तक रामपुरा के सैनिक अस्पताल में उपचार के बाद उनकी हालत में कुछ सुधार भी हुआ था। जिसके बाद उन्होंने ड्यूटी ज्वाइन कर ली थी। मिली जानकारी के अनुसार तीन माह पूर्व सुखबीर सिंह के पेट में दर्द की शिकायत हुई और उन्हें फिर से सैन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से करीब एक सप्ताह पहले स्वजन उन्हें गुड़गांव के एक निजी अस्पताल में ले आए थे। जहां रविवार को उन्होंने अंतिम सांस ली।

सोमवार को सीआरपीएफ के वाहन से उनके पार्थिव शरीर को उनके पैतृक गांव लाया गया। जहां से अंतिम दर्शन के बाद गंगा के गौहरी घाट पर सैन्य सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। सीआरपीएफ के जवानों ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया। सुखबीर सिंह के निधन से क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here