यहां फिर रफ्तार पकड़ने लगा कोरोना, नई गाइडलान जारी, लगा लाॅकडाउन

मुंबई: कोरोना के मामले भले पूरे देश में तेजी से कम हो रहे हों, लेकिन महाराष्ट्र में कोविड-19 के मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ने लगे हैं. इसको लेकर मुंबई नगरपालिका ने नई सेफ्टी गाइडलाइंस जारी की हैं. महाराष्ट्र में गुरुवार को 5,000 से ऊपर कोरोना के नए केस दर्ज किए गए. ऐसा लगभग 75 दिनों के बाद हुआ है, जब वहां पर एक दिन में इतनी संख्या में नए केस दर्ज किए गए हों. पिछले एक हफ्ते में लगातार यहां केस बढ़ रहे थे. मुंबई में 736 केस सामने आए. ऐसे में बचाव के लिए महाराष्ट्र सरकार ने सख्ती दिखाने का फैसला किया है. मास्क पर सख्ती, इमारतों को सील किए जाने के अलावा, सरकार ने अमरावती और यवतमाल में वीकेंड लॉकडाउन लगाने का फैसला भी किया है. अमरावती में शनिवार से सोमवार तक लॉकडाउन लगाया गया है.

मुंबई म्‍युनिसिपल कार्पोरेशन आयुक्‍त इकबाल सिंह चहल ने गुरुवार को मुंबई के लिए नई गाइडलाइन जारी की है. इसमें सख्ती दिखाते हुए पांच से ज्यादा कोरोना के मरीज मिलने पर इमारत सील करने का फैसला किया गया है. वहीं होम क्वारंटीन किए गए लोगों को, बचाव के तहत, हाथ पर स्टैम्प लगाया जाएगा. मास्‍क न पहनने वालों के खिलाफ भी अब ज्यादा सख्‍ती बरती जाएगी. खासकर, लोकल और ट्रेन में बिना मास्क यात्रा करने वालों की जांच के लिए 300 मार्शल की तैनाती गई है. शहर में रोजाना 25 हजार बिना मॉस्क वालों पर कार्रवाई का लक्ष्य रखा गया है.

सोशल डिस्टेंसिंग का खयाल रखते हुए शादियों, क्‍लबों, शॉपिंग माल, रेस्टोरेंट, दफ्तर इत्यादि में एक साथ क्षमता के 50 फीसदी से ज्यादा लोगों के एकत्रित होने वालों के खिलाफ पर कार्रवाई की जाएगी. इन जगहों पर लगातार औचक निरीक्षण किया जाएगा. इन जगहों पर सभी लोग मास्‍क पहनें, इसे लेकर सख्‍ती बरती जाएगी. नियम का उलंघन होने पर उस संस्था के मालिक पर कार्रवाई की जाएगी. नई गाइडलाइंस के तहत ब्राजील से आने वाले यात्री भी अब आइसोलेशन में रखे जाएंगे. पिछले दिनों बताया गया था कि देश में साउथ अफ्रीका और ब्राजील के वेरिएंट के कोरोनावायरस वाले मरीज मिले हैं, जिसके बाद इसे रोकने के लिए यह फैसला लिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here