रुठों को मनाने की तैयारी में कांग्रेस, दरबार में जानेगी पक्ष और भेजेगी रिपोर्ट

हल्द्वानी : विधानसभा चुनाव से पहले विधायकों और कार्यकर्ताओं का दल बदलने का सिलसिला जारी है। भाजपा का कुनबा लगातार बढ़ रहा है। हालांकि कांग्रेस और आप का दामन भी कई लोगों ने थामा लेकिन बात विधायकों की करें तो भाजपा में हाल ही में कांग्रेस और निर्दलीय विधायक शामिल हुए हैं जिससे भाजपा को मजबूती मिली है। भाजपा समेत कांग्रेस की नजर उन नेताओं पर है जो कि पूर्व में किसी वजह से पार्टी को छोड़ गए या फिर संगठन ने उन्हें खुद निकाल दिया।

अपने कुनबे को बढ़ाने और रुठों को मनाने के लिए कांग्रेस एक नया काम करने जा रही है। बता दें कि कांग्रेस कुमाऊं कार्यालय स्वराज आश्रम में 24 सितंबर को पूर्व में निष्कासित लोगों की घर वापसी को लेकर उनका पक्ष सुनेगी और इसके बाद रिपोर्ट प्रदेश संगठन को भेजी जाएगी।

प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने हाल में चार सदस्यीय समिति का गठन किया था। वरिष्ठ कांग्रेस नेता हरीश कुमार की अध्यक्षता वाली समिति में प्रदेश महासचिव गोविंद सिंह बिष्ट, प्रदेश सचिव शांति प्रसाद भट्ट के अलावा पूर्व महासचिव विजय सिजवाली भी शामिल हैं। 24 सितंबर को हल्द्वानी के स्वराज आश्रम से कमेटी इस मुहिम की शुरूआत करेगी। जिसमें कुमाऊं के सभी जिलों के पुराने मामलों पर सुनवाई होगी। चर्चा है कि कई पुराने क्षत्रप दोबारा वापसी को लेकर तैयार हैं। अब देखना यह है कि किन समझौतों और शर्तों के साथ उनकी घर वापसी होती है या वो मन नही़ं बदलेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here