उत्तराखंड। चारा लेने गईं महिलाओं का चालान विवाद सीएम धामी के पास, जांच करेंगे कमिश्नर

cm dhami profile in meeting in action

चमोली के हेलांग में चारा पत्ती लेने गईं महिलाओं का पुलिस द्वारा शांति भंग में चालान किए जाने का मामला अब सीएम धामी तक पहुंच गया है। सीएम धामी ने इस मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं।

आपको बता दें कि हाल ही में एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ जिसमें घास ले जा रहीं कुछ महिलाओं के घास के गट्ठर पुलिस उतरवा रही थी। इसके बाद पुलिस ने तीन महिलाओं और एक अन्य को शांति भंग की आशंका में गाड़ी में बैठा लिया। मीडिया रिपोर्ट्स में सामने आया कि पुलिस ने लगभग छह घंटे महिलाओं को बैठाए रखने के बाद जोशीमठ थाने से चालान करने के बाद छोड़ा।

वीडियो वायरल होने के बाद जब पुलिस और प्रशासन की कार्रवाई पर सवाल उठे तो प्रशासन ने सफाई दी कि महिलाओं के परिजनों ने प्रस्तावित खेल मैदान की जमीन पर अतिक्रमण किया है और हटने को तैयार नहीं हैं। हालांकि महिलाओं का दावा है कि उनके पशुओं के चारे वाली जगह पर प्रशासन मलबा डलवा रहा है जिससे पशुओं के लिए चारा मिलना मुश्किल हो जाएगा।

इस बीच कांग्रेस ने भी इस मसले को लपक लिया। कांग्रेस ने इस मसले पर जमकर प्रदर्शन किया है। कांग्रेस ने सरकार पर महिलाओं के उत्पीड़न का आरोप लगाया है।

अब इसके बाद सरकार ने इस मामले में संज्ञान लिया है। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने इस मसले पर गढ़वाल कमिश्नर को तुरंत जांच कर रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here