मुख्यमंत्री ने मृतक कमलेश के परिजनों से की बात, दिया हर संभव मदद का आश्वासन

cm dhami
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और परिवहन मंत्री चंदनराम दास ने सेना भर्ती में असफल रहने पर आत्महत्या करने वाले बागेश्वर के कमलेश गिरी के परिजनों से फोन पर बात कर संवेदना प्रकट की। उन्होंने घटना को बहुत दुखद बताते हुए दिवंगत की आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की। उन्होंने आश्वस्त किया कि राज्य सरकार शोक संतप्त परिवार को मदद का आश्वासन दिया।

गौरतलब है कि उत्तराखंड के बागेश्वर जिले के कपकोट थाना क्षेत्र के फरसाली मल्ला देश का बचपन से भारतीय सेना का हिस्सा बनने का सपना देख रहे कललेश गिरी ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि अग्निवीर सेना भर्ती परीक्षा में असफल होने के चलते युवक ने खौफनाक कदम उठाया है, मरने से पहले मृतक ने एक वीडियो अपने दोस्तों को भेजा था, जिसमें उसने बताया कि फिजिकल और मेडिकल में 200 मार्क्स और रिटन पेपर में एनसीसी सी सर्टिफिकेट होने के कारण उसका अग्निवीर में होना फाइनल था, लेकिन उसे फेल कर दिया गया, इसलिए वो आत्महत्या कर रहा है।

घटना की हो रही जांच

एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि कथित तौर पर आत्महत्या करने वाले युवक के परिजनों से मुख्यमंत्री ने बात की और घटना पर दुख व्यक्त किया। बातचीत के दौरान उन्होंने युवक के माता-पिता को आश्वासन दिया जाता है कि राज्य सरकार शोकसंतप्त परिवार की हर संभव सहायता करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here