पत्रकार और पूर्व सांसद चंदन मित्रा का निधन

chandan-mitra

 

पूर्व राज्यसभा सांसद और जाने-माने पत्रकार चंदन मित्रा का निधन हो गया है। चंदन मित्रा Pioneer News Paper के एडिटर इन चीफ और मैनेजिंग डायरेक्टर थे। पूर्व राज्यसभा सांसद चंदन मित्रा के निधन की जानकारी उनके बेटे कुशन मित्रा ने दी।

चंदन मित्रा दो बार राज्यसभा सांसद रहे थे। पहली बार वह अगस्त 2003 से अगस्त 2009 तक राज्यसभा सांसद रहे। फिर भारतीय जनता पार्टी ने 2010 में उन्हें मध्यप्रदेश से राज्यसभा सांसद बनाया था। इसके बाद साल 2018 में चंदन मित्रा ने ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस पार्टी (TMC) जॉइन कर ली थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चंदन मित्रा के निधन पर शोक प्रकट किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि ‘श्री चंदन मित्र जी को उनकी बुद्धि और अंतर्दृष्टि के लिए याद किया जाएगा। उन्होंने मीडिया के साथ-साथ राजनीति की दुनिया में भी अपनी पहचान बनाई। उनके निधन से आहत हूं। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदना। शांति।’

बीजेपी के राज्यसभा सांसद स्वप्न दासगुप्ता ने भी चंदन मित्रा के निधन पर शोक व्यक्त किया है। चंदन मित्रा के निधन पर बीजेपी से राज्यसभा सांसद स्वप्न दासगुप्ता ने दुख जताया और उनसे जुड़ी कुछ यादें ताजा कीं। स्वप्न दासगुप्ता ने लिखा, ‘मैंने आज सुबह अपने सबसे करीबी दोस्त चंदन मित्रा को खो दिया। हम दोनों ने साथ में ला मार्टिनियर कॉलेज और फिर स्टीफन और ऑक्सफोर्ड में पढ़ाई की थी।

 

दोनों एक साथ पत्रकारिता से जुड़े थे। अयोध्या और भगवा लहर के उत्थान का उत्साह भी साथ-साथ देखा था।’ स्वप्न दासगुप्ता ने चंदन मित्रा संग खिंचवाई गई एक पुरानी फोटो शेयर करते हुए लिखा ‘1972 में जब मैं और चंदन मित्रा स्कूल ट्रिप पर गए थे, यह तब की तस्वीर है। दोस्त तुम जहां भी रहो, खुश रहो। ओम शांति।’

 

चंदन मित्रा पायनियर अखबार के संपादक थे। साल 2003 से 2009 तक राज्यसभा के मनोनित सांसद रहे। वह 2010 में भी राज्यसभा के लिए चुने गए। साल 2018 में उन्होंने टीएमसी ज्वाईन कर ली। चंदन मित्रा लेखक भी थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here