यहां सूटकेस में मिले मानव अंग, श्रद्धा वॉकर हत्याकांड से जुड़ सकती है कड़ी

shraddha murder caseहरियाणा के फरीदाबाद में एक सूटकेस में शव के कुछ टुकड़े मिले हैं। पुलिस को शक है कि सूटकेस के अंदर बरामद शव का टुकड़ा मुंबई की 27 वर्षीय श्रद्धा वॉकर का हो सकता है। फरीदाबाद पुलिस ने सूरजकुंड वन क्षेत्र में शरीर के अंगों के साथ सूटकेस की बरामदगी के बाद दिल्ली पुलिस से संपर्क किया है।

पुलिस के मुताबिक, शव को प्लास्टिक की थैली और एक बोरी में लपेटा गया था। सूटकेस के पास से कपड़ा और एक बेल्ट भी बरामद किया गया है। फरीदाबाद पुलिस ने एक बयान में कहा कि प्रथम दृष्टया ऐसा प्रतीत होता है कि एक हत्या कहीं और की गई थी और पहचान से बचने के लिए शरीर का एक हिस्सा यहां फेंक दिया गया था।

महलौरी पुलिस घटनास्थल पर जांच के लिए पहुंची

फरीदाबाद पुलिस ने यह जानकारी दिल्ली पुलिस से शेयर की, जिसके बाद श्रद्धा हत्याकांड की जांच कर रही दक्षिण दिल्ली की महरौली पुलिस की एक टीम भी मौके पर पहुंचकर जांच में जुट गई है। दिल्ली पुलिस के अधिकारियों को संदेह है कि सूटकेस से बरामद शव श्रद्धा वॉकर हत्याकांड से जुड़ा हो सकता है।

सूत्रों ने कहा कि सूटकेस में पाए गए शरीर के अंग महीनों पुराने लग रहे हैं प्रतीत होते हैं। फिलहाल, ये स्पष्ट नहीं है कि शव के टुकड़े महिला के हैं या फिर किसी पुरुष के। पुलिस के मुताबिक, शव के टुकड़े को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है, रिपोर्ट के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।

आधिकारिक सूत्रों ने न्यूज एजेंसी ANI को बताया, “फरीदाबाद के पुलिस अधिकारियों ने भी कहा है कि अगर दिल्ली पुलिस डीएनए टेस्ट के लिए जाना चाहती है तो वे नमूने अलग रख देंगे।”

पुलिस हिरासत में आफताब से पूछताछ जारी

श्रद्धा वॉकर हत्याकांड में आरोपी आफताब अमीन पूनावाला फिलहाल पुलिस हिरासत में है और परसेप्चुअल एबिलिटी टेस्ट (पीएटी) से गुजर रहा है। आफताब पर अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा की गला दबाकर हत्या करने और उसके शरीर के 35 टुकड़े करने का आरोप है। उस पर यह भी आरोप है कि उसने शरीर के कटे हुए हिस्सों को दक्षिणी दिल्ली के छतरपुर के जंगलों में फेंकने से पहले काफी दिनों तक रेफ्रिजरेटर में रखा था।

आफताब और श्रद्धा एक डेटिंग साइट पर मिले थे। इसके बाद दोनों मुंबई से आकर छतरपुर में किराए के फ्लैट में रहने लगे। श्रद्धा के पिता की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने 10 नवंबर को प्राथमिकी दर्ज की और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी से पूछताछ के बाद पता चला कि आफताब ने 18 मई को श्रद्धा की हत्या कर दी थी जिसके बाद उसने शव को ठिकाने लगाने के तरीकों की खोज शुरू कर दी थी।

दिल्ली पुलिस ने खुलासा किया कि वारदात के बाद सबूतों को छिपाने के लिए आरोपी ने अमेरिकी क्राइम शो देखा था। उसने पुलिस को यह भी बताया कि उसने अपनी प्रेमिका के शरीर को काटने से पहले मानव शरीर रचना के बारे में पढ़ा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here