यहां दिनदहाड़े चोरी हो गया लोहे का पुल, अब हुआ ये खुलासा

bihar bridge stolen

बिहार में एक गजब का कारनामा हुआ है। और इस कारनामे के बाद जो कुछ पुलिस ने किया वो और भी हैरान करने वाला है।

 

दरअसल बिहार के रोहतास जिले में हाल में एक नहर पर बना हुआ लोहे का लगभग 500 टन का 60 फुट लंबा पुल चोरी हो गया वो भी दिन दहाड़े।

ये चोरी गांव के लोगों की आंखों के सामने लगभग तीन दिनों तक होती रही और उन्हें भनक भी नहीं लगी कि वो अपनी आंखों के सामने चोरी होते हुए देख रहें हैं।

 

अब पूरा मामला समझिए। रोहतास के अमियावर गांव में एक नहर पर लगभग पचास साल पुराना एक लोहे का पुल था। साठ फिट लंबे इस पुल के पास हाल ही में कुछ लोग पहुंचे और इसे काटना शुरु कर दिया। गांव वालों ने जब पूछा तो उन्होंने खुद को सिंचाई विभाग का कर्मचारी बताया।

 

ये सुन कर गांव वाले चुप हो गए। चूंकि ये पुल काफी पुराना हो गया था और उपयोग में भी नहीं था लिहाजा लोगों ने कोई खास तवज्जो नहीं दी।

 

लगभग तीन दिनों तक चोर इस पुल को गैस कटर, जेसीबी और अन्य औजारों से तोड़ते रहे और उसका लोहा गाड़ी में लाद कर ले जाते रहे।

 

जब चोर पुल चुरा कर ले गए तो उसके कुछ समय बाद इस बात का खुलासा हुआ कि पुल तो चोरी हुआ है। इसके बाद आनन फानन में पुलिस एक्टिव हुई।

 

पुलिस ने इस मामले में राज्य के जल संसाधन विभाग के एक एसडीओ को गिरफ्तार किया तो हैरतअंगेज कहानी सामने आई। पुलिस को पता चला कि एसडीओ की मिलीभगत से ही चोरों ने पुल को चुराया। इस काम में विभाग के कुछ अन्य लोग भी शामिल थे। एक इंजीनियर भी मौके पर मौजूद रहा। पुलिस ने कुल आठ लोगों को इस मामले में गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से 247 किलो स्क्रैप, एक जेसीबी बरामद हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here