उत्तराखंड से बड़ी खबर: खतरे के निशान से 2 मीटर ऊपर बह रही अलकनंदा, बारिश जारी

रुद्रप्रयाग: मानसून ने राज्य में जोर पकड़ लिया है, जिसके चलते अब प्रदेशभर में भारी बारिश हो रही है। गढ़वाल से कुमाऊं तक नदियां और नाले उफान पर हैं। कई जगहों पर भू-स्खलन भी हुआ है। इसके चलते कई मुख्य और संपर्क मार्ग मलबा गिरने बंद हो गए हैं। रुद्रप्रयाग मे पिछले 3 दिनों से हो रही भारी बारिश के चलते जन जीवन बुरी तरीके से प्रभावित हो चुका है। ग्रामीण इलाकों से यातायात सम्पर्क बन्द हो रहा है। दूसरी ओर अलकनंदा और मंदाकिनी खतरे के निशान से 2 मीटर ऊपर बह रही है, धीरे.धीरे यह जल स्तर बढ़ता जा रहा है।

आपदा प्रबन्धन अधिकारी नन्दन सिह रजवार के साथ पूरी टीमे रात भर से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुचाने मे लगे है रुद्रप्रयाग के नदी तट पर बने घरों में पानी आने से यह रह रहे लोगों को घर खाली करवा दिये हैं। हम आपको तस्वीरें आधी रात्र की दिखा रहे हैं, आपदा प्रबन्धन की टीमे किस प्रकार मुस्तैदी से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने को मदद कर रहे हैं। दोनों नदियां खतरे के निशान से 2 मीटर से ऊपर बह रही है। अभी लगातार बारिश जारी है।

-राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 107 रुद्रप्रयाग गौरीकुंड स्थान तहसील रुद्रप्रयाग के समीप मलबा आने के कारण मार्ग यातायात हेतु अवरुद्ध चल रहा है।
-राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 58 ऋषिकेश बदरीनाथ स्थान सिरोबगड तथा नरकोटा एवं सम्राट होटल की मध्य मार्ग यातायात हेतु अवरुद्ध चल रहा है।
-जनपद में लगातार बारिश जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here