उत्तराखंड : बिन राशन कार्ड वालों को फ्री में राशन देगी सरकार, सफेद और पीले कार्ड धारकों के लिए ये फैसला

देहरादून : भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि बेशक कोरोना का प्रभाव कम हो रहा है, लेकिन अभी और ज्यादा सतर्क होने की जरुरत है और हर पीड़ित और जरुरतमन्द तक पहुँँचना हमारा लक्ष्य होना चाहिए। 5 जिलों के जिलाध्यक्ष, मंडल अध्यक्ष और पदाधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक में उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रो तक कोरोना के फैलने से रोकने के लिए हर कोशिश की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि जनता की आवश्यक्ता के अनुरूप कार्य हो ऐसा प्रयास जरुरी है। ऐसे क्षेत्र जहां पर लोग कोरोना की जांच नहीं करवा रहे उनके बीच जानकारी और स्वास्थ्य विभाग के साथ समन्वय बनाकर टेस्ट और दवा का प्रवन्ध कर चेन को तोड़ना है। राज्य भर में जिले स्तर पर 15 कन्ट्रोल रूम बनाये गए हैं और उन केन्द्रों का सम्पर्क बूथ लेबल तक है। इसके लिए सम्पर्क की चेन को बढाकर आम पीड़ित तक पहुचा जा सकता है। मास्क,सैनिटाइजर का वितरण और स्वास्थ्य विभाग और अस्पताल से संपर्क कर ब्लड की जरुरत पड़ने पर ब्लड डोनेशन कैंप आयोजित भी किये जाए। जरुरतमन्दो को अस्पताल तक पहुचाने की व्यवस्था,आक्सिजन के साथ साथ दवा की किट और काढा आवश्यकता अनुसार दिए जाए।

उन्होंने कहा कि इस बात पर भी सतर्क रहने की जरुरत है कि कांग्रेस नकारात्मक राजनीति के चलते राहत कार्य और वैक्सीन को लेकर अफवाह फैला रहा है। पहले असरहीन,मोदी वैक्सीन, भाजपा की वैक्सीन सहित कई तरह की अफवाह फैलाने वाले अब वैक्सीन कम होने या कहीं और भेजने जैसे आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं। इन लोगो की रुचि सेवा कार्यों में नहीं है और व्यवस्था में खामिया निकालकर राजनिति कर रहे हैं।जबकि संकट की इस घड़ी में मिलजुलकर जनता के बीच मदद करने का समय है। उनके ऐसे प्रयासो को विफल करना है। प्रदेश में समय पर वैक्सीनैशन पूरा होगा और वर्तमान में भी यह अभियान चल रहा है।कोविड के खिलाफ व्यवस्थाएं निरंतर बढ़ रही है। प्रदेश में आक्सिजन,दवाई और किसी तरह की समस्या नहीं है।

सरकार ने ऐसे लोग जिनके पास राशन कार्ड नहीं है उनको भी फ्री राशन देने का निर्णय लिया है। सफ़ेद कार्ड पर 3 माह तक पूरी राशन फ्री तथा पीले कार्ड पर भी 20 किलो राशन देने का निर्णय लिया है। कार्यकर्त्ताओं की जिम्मेदारी है कि लोगो को जानकारी मुहैय्या कराए और साथ ही राशन की दुकानों में पड़ताल भी की जाए कि राशन समय पर आये और आम लोगों तक पहुचे। सरकार ने ऐसे परिवार जो कोरोना में मुखिया को खो चुके हैं उनके लिए भी 5 प्रतिशत आरक्षण व इस महामारी में अनाथ हुए बच्चों के भरण पोषण के लिए 3 हजार रुपये महिना देने के लिए वात्सल्य योजना आरंभ की गई है। सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को जनता के बीच ले जाने की जरुरत है जिससे उन्हें योजनाओं का लाभ मिले।

बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश महामंत्री संग़ठन अजेय ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता निरंतर सेवा भाव से सेवा कार्य में जुटे रहते हैं। भाजपा द्वारा संग़ठन ही सेवा-2 अभियान के तहत सभी कार्यकर्ता निश्चित रूप से दिन रात कार्य कर रहे हैं। अजेय ने प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने व प्रभावितों की मदद के लिए सभी जिलाध्यक्षों को सेवा के कार्य को बूथ स्तर तक विस्तार करने के लिए कहा।

उन्होंने जिलाध्यक्षों को प्रत्येक गांव में एक कोविड प्रमुख के साथ टोली बनाकर सेवा कार्यों को और तेज करने के लिए निर्देशित किया। साथ ही अजेय ने कहा कि इस टोली के द्वारा बताई गई सभी समस्याओं का निदान जिलाध्यक्ष स्वयं व प्रभारी मंत्री के माध्यम से समाधान कराना भी सुनिश्चित करें। और शक्तिकेन्द्रों के सयोंजकों को भी और अधिक सक्रिय करने करने के लिए कहा।।

अजेय ने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के द्वारा दिये गये निर्देश पर प्रत्येक जिले में कोविड से प्रभावित कार्यकर्ताओं की चिंता करने के लिए चार सदस्यीय टीम का भी गठन करने के लिए कहा। उन्होंने कार्यकर्ताओं से सेवा के साथ स्वयं के भी सुरक्षित रहने के लिए कहा।

वर्चुअल माध्यम से बैठक में प्रदेश महामंत्री राजेन्द्र भंडारी, कुलदीप कुमार, सुरेश भट्ट , प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान, शेखर वर्मा सभी जिलों अलग अलग रूप से जिलाध्यक्ष विधायक व सांसद मौजुद रहे। आज जिन पांच जनपदों की अलग अलग वर्चुअल बैठक ली गई उनमें उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, टिहरी , देहरादून ग्रामीण जिले शामिल रहे। बैठकों का दौर प्रातः 10 बजे से सायं 6 बजे तक जारी रहा । अन्य जिलों की बैठकें 24 व 25 मई को आयोजित की गई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here