गर्मियों में यात्रा का हवाला, सर्दियों में ठंड का, तो कब होगा गैरसैंण में सत्र?

BHUVAN KAPRIउत्तराखंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र देहरादून में कराया जाए या फिर गैरसैंण इसे लेकर अंतिम फैसला सरकार को करना है लेकिन इससे पहले इसपर खूब राजनीति हो रही है। जहां एक ओर गैरसैंण में सत्र को लेकर कुछ भी कहने से बच रहा है वहीं विपक्ष लगातार गैरसैंण में सत्र कराने की मांग कर रहा है। अब तो सदन में उप नेता प्रतिपक्ष भुवन कापड़ी ने नया सवाल खड़ा कर दिया।

दरअसल कांग्रेस विधायक और उप नेता प्रतिपक्ष भुवन कापड़ी ने सरकार से पूछा है कि सरकार ने ग्रीष्म काल में चारधाम यात्रा और यात्रा मार्ग में पर्यटकों की भारी भीड़ का हवाला देकर गैरसैंण में सत्र नहीं कराया। अब वही सरकार गैरसैंण में ठंड का हवाला देकर शीतकालीन सत्र भी कराने से बचना चाहती है। ऐसे में सरकार को बताना चाहिए कि कौन सा सत्र वो गैरसैंण में करा पाएगी।

भुवन कापड़ी ने आरोप लगाया है कि गैरसैंण को लेकर बीजेपी की मंशा ठीक नहीं है। कापड़ी ने दावा किया है कि कांग्रेस गैरसैंण में सत्र कराने के लिए हमेशा तैयार है।

आपको बता दें कि 15 नवंबर तक हर हाल में उत्तराखंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र आहूत करना आवश्यक है। स्पीकर ऋतु खंडूरी ने इस संबंध में एक सर्वदलीय बैठक भी बुलाई लेकिन इस बैठक में भी सत्र की जगह को लेकर एक राय नहीं बन पाई और फैसला कैबिनेट पर छो़ड़ दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here