बंशीधर का फिर बेतुका बयान, कहा- हम 10 मुख्यमंत्री बनाएं, 1 बनाएं, 2 बनाएं इससे जनता को कोई मतलब नहीं

देहरादून : एक बार फिर से कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत ने बेतुका बयान दिया है जो सोशल मीडिया पर सुर्खियां बटोरे हैं। वहीं बंशीधर के इस बयान पर पूर्व सीएम हरीश रावत ने भी वार किया है। आपको बता दें कि कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत ने राजभवन में शपथ ग्रहण के बाद एएनआई को बयान देते हुए विवादित टिप्पणी कर डाली है. मीडिया कर्मियों द्वारा बंशीधर भगत को मुख्यमंत्री बदलने को लेकर जब सवाल किया गया तो कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत ने दो टूक शब्दों में कह डाला “कि हम 10 मुख्यमंत्री बनाएं, एक बनाएं, दो बनाएं इससे जनता को कोई मतलब नहीं”। बंशीधर भगत ने कहा कि जनता को काम चाहिए और स्वराज चाहिए। बंशीधर भगत ने कांग्रेस पर भी वार किया औऱ कहा कि विपक्ष के पास मुद्दा बनाने को है क्या. वो बनाएगा..जनता सुनेगी तब ना।

बेतुके बयान पर भगत को नेता प्रतिपक्ष से मांगनी पड़ी थी माफी

आपको बता दें कि ये पहली बार नहीं है जब कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत ने बेतुका बयान दिया है और उनकी किरकिरी हुई है। बल्कि इससे पहले कुमाऊं दौर के दौरान भी बंशीधर भगत ने बेतुका बयान दिया था जिससे उनकी और उनकी सरकार की खूब किरकिरी भी हुई थी। उनको नेता प्रतिपक्ष से माफी मांगनी पड़ गई थी। वहीं एक बार फिर इसी तरह के बयान से उनकी और भाजपा सरकार की किरकिरी हो रही है। बता दें कि इससे पहले वो स्व. इंदिरा हृद्येश को लेकर बेतुका बयान दे चुके हैं।

हरदा ने किया वार

पूर्व सीएम हरीश रावत ने बंशीधर के इस बयान को लेकर सरकार को भी घेरा। हरीश रावत ने सोशल मीडिया पर लिखा कि हिप-हिप हुर्रे बंशीधर भगत जी, आपने फिर से मंत्री पद की शपथ लेते ही बयान ठोक डाला कि हम 10 मुख्यमंत्री बनाएं, 3 बनाएं, एक बनाएं, यह हमारा मामला है, इससे किसी को क्या लेना देना! और मैं कहता हूंँ 3 और 10 ही क्यों, 56 आपकी संख्या है, एक-एक बार सबको मुख्यमंत्री पद से नवाज दीजिए, बहुत सारी आत्माएं तृप्त हो जाएंगी, आप स्वयं भी तृप्त हो जाएंगे। #uttarakhand

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here