उत्तराखंड बनता जा रहा ठगी का अड्डा, परिचित बनकर खाते से ऐसे उड़ाए 60 हजार

देहरादून : उत्तराखंड में साइबर ठगों का जाल फैलता जा रहा है। आए दिन लोग ऑनलाइन ठगी का शिकार हो रहे हैं। बूढे बुजुर्ग लोगों को ऑनलाइन और डिजीटल की दुनिया की जानकारी नहीं है और इसी कारण वो ठगी का शिकार हो रहे हैं। ठग ऐसे ही लोगों की तलाश में हैं जिनको इसकी ज्यादा जानकारी नहीं है। ठग ऐसों की ही तलाश में रहते हैं जिनको इंटरनेट की ज्यादा जानकारी नहीं है। ऐसा ही हुआ क्लेमेंटटाउन थाना क्षेत्र में जहां एक व्यक्ति को परिचित बनकर ठगी का शिकार बनाया गया। साइबर ठगों ने गूगल पर का लिंक भेजकर व्यक्ति से ठगी औऱ उसके खाते से 60 हजार रुपये ठग लिए। साइबर थाने की जांच के बाद क्लेमेंटटाउन पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

ऐसे हुआ ऑनलाइन ठगी का शिकार

मिली जानकारी के अनुसार बड़ा भारुवाला निवासी रिजवान ने पुलिस को शिकायत कर बताया कि बीते 25 जून को वह अपने घर में था। उसे एक नंबर से कॉल आया। कॉल करने वाले ने खुद को उसका परिचित बताया। रिजवान ने बताया कि उसकी आवाज एक परिचित ठेकेदार के जैसी लगी। उसने कहा कि वह उसे 10 हजार रुपये भेज रहा है। एक लिंक मोबाइल पर आएगा, जिसे क्लिक करते ही उसके खाते में रुपये आ जाएंगे।

रिजवान ने की गलती पर गलती

रिजवान ने पुलिस को बताया कि उसके खाते में रुपये नहीं आए बल्कि 15 हजार रुपये खाते से कट गए। रिजवान ने जब उससे कहा तो फोन करने वाले ने कहा कि गलती हो गई वह दूसरा लिंक भेज रहा है।इसके बाद फिर लिंक आया और दोबारा 15 हजार रुपये कट गए। तीसरी बार फिर से साइबर ठग ने यही बात दोहराई और एक बार और लिंक भेजकर 30 हजार रुपये उड़ा लिए। कुल मिलाकर खाते से 60 हजार रुपये कट गए। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर ठग की तलाश शुरु कर दी है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here