उत्तराखंड: सेना का सिपाही निकला लुटेरा, IPL में सट्टा लगाने के लिए की लूट

 

देहरादून: शिमला बाइपास रोड़ पर लूट मामले में पुलिस ने खुलासा कर दिया है। एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी ने स्टेट बैंक आफ इंडिया की शिमला बाइपास शाखा के बाहर इंजीनियर राधेकृष्ण नैनवाल व उनके पिता की आंखों में मिर्च डालकर 10 लाख रुपए लूट लिए थे, जिनमें से 3 लाख रुपये वो अपने साथ लेकर गया और बाकी रुपयों से भरा बैग वहीं फेंक गया।

एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने बताया कि जोजो खुर्द भिवानी हरियाणा निवासी सत्येंद्र जाट आर्मी में सिपाही है और इस समय उसकी पोस्टिंग बरेली में है। पांच अप्रैल को वह अपने दोस्त को भर्ती करवाने के लिए देहरादून लाया था और भर्ती कराने के नाम पर उसने सात लाख लिए थे।

दोपहर ढाई बजे वहां शिमला बाइपास स्थित एसबीआई की शाखा से 300 रुपये जमा कराने के लिए गया था, जहां उसने देखा कि एक खाता धारक बैंक से 10 लाख रुपये निकाल रहा है। उसने तुरंत ही लूट की योजना बनाई और पास की एक दुकान से मिर्च पाउडर लेकर आया। जैसे ही पैसों का बैग लेकर बाहर आया और कार में बैठा, आरोपी ने उनकी आंखों में मिर्च डालकर 10 लाख रुपये लूट लिए।

आसपास के लोग जब उसके पीछे भागे तो वह सात लाख रुपये घटनास्थल पर छोड़कर फरार हो गया। पुलिस आरोपी को चंद्रबदनी में ढूंढती रही। जबकि आरोपी वहां से आइएसबीटी पहुंचा और वोल्वो का टिकट बुक करा कर दिल्ली चला गया। दिल्ली पहुंच कर उसने यह यह रुपये बैंक में जमा किए और आइपीएल में सट्टा लगा दिया। आरोपित के पास से केवल 45 हजार रुपए बरामद हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here