गैरसैंण की गेंद अब सरकार के पाले में, कैबिनेट में होगा फैसला

ritu khanduri in meeting with leaders

उत्तराखंड का शीतकालीन सत्र कहां होगा इसे लेकर अब भी संशय दूर होता नहीं दिख रहा है। अब अंतिम फैसला राज्य की कैबिनेट को करना है। यानी गेंद अब सरकार के पाले में है। दिलचस्प ये भी है कि विपक्ष पहले ही गैरसैंण में सत्र कराने की बात कह चुका है। ऐसे में अब पूरा दारोमदार सरकार पर आ गया है कि वो कहां सत्र कराती है।

पहली बार पहले ही सर्वदलीय बैठक

उत्तराखंड में शीतकालीन सत्र कहां होगा इसे लेकर स्पीकर ने सोमवार को विधानसभा में एक सर्वदलीय बैठक बुला ली। इस बैठक में जहां सरकार के संसदीय कार्यमंत्री और अन्य पार्टियों के विधायक पहुंचे वहीं नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्या ने भी शिरकत की। विधानसभा की रिपोर्टिंग करने वाले पत्रकारों की माने तो संभवत ऐसा पहली बार हो रहा है कि विधानसभा का सत्र कहां होगा इसे तय करने के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाई गई हो। आमतौर पर विधानसभा का सत्र आहूत होने के बाद ही ऐसी सर्वदलीय बैठकें बुलाई जाती हैं।

बैठक निपटी, सरकार पर फैसला छोड़ा

भले ही सर्वदलीय बैठक निपट गई हो लेकिन अंतिम फैसला सरकार पर छोड़ा गया है। हालांकि नेताओं ने गैरसैंण में सत्र कराने की बात मीडिया के सामने कही है। लेकिन दिलचस्प ये है कि सरकार को ही अंतिम रूप से तय करना है। बैठक में ये बात साफ हो गई कि सत्र हर हाल में 16 दिसंबर से पहले आहूत कर लिया जाए। इस सत्र में अनुपूरक बजट पेश होना है।

ठंड होगी चुनौती

गैरसैंण में ठंड के मौसम में सत्र कराना सरकार के लिए एक बड़ी चुनौती हो सकती है। भराणीसैंण स्थित विधानसभा भवन के आसपास अक्सर बर्फबारी होती है। ठंड के दिनों में बिना बर्फबारी के भी विधानसभा भवन में अच्छी खासी ठंड होती है। वहीं न सिर्फ विधायकों बल्कि अन्य अधिकारियों और कर्मचारियों को भी इस ठंड में भारी चुनौती का सामना करना पड़ सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here