उत्तराखंड : नाबालिग की होने वाली थी शादी, उसकी सहेली ने ऐसे बचाया

देहरादून: दोस्त अगर अच्छे हों तो मुश्किलें कम हो जाती है। सच्चे दोस्त एक-दूसरे की मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है। दो नाबालिग लड़कियों की सच्ची दोस्ती ने एक लड़की जिंदगी बर्बाद होने से बचा दी। सहेली की सूझबूझ से एक नाबालिग की शादी होने से बच गई।

लड़की की सूचना पर पहुंचे अधिकारियों ने विवाह करने के लिए हरदोई जा रहे परिवार को रास्ते में ही रोक लिया। बाद में उन्हें नाबालिग बेटी का विवाह न करने की हिदायत देकर जाने दिया। मामले शुक्रवार का है। माजरा क्षेत्र के सत्तोवाली घाटी में एक परिवार के नाबालिग बेटी को शादी के लिए यूपी ले जाने की सूचना मिलने पर महिला कल्याण अधिकारी व खंड स्तरीय बाल विवाह प्रतिषेध अधिकारी मौके पर पहुंचीं।

महिला कल्याण अधिकारी सरोज ध्यानी ने बताया कि लड़की के माता-पिता दिहाड़ी मजदूरी करते हैं। उनकी पांच बेटियां हैं। वह अपनी दो बेटियों की शादी कराने जा रहे थे, जिसमें से छोटी बेटी नाबालिग है। उन्होंने बताया कि लड़की की सहेली ने इसकी सूचना समिति को दी, जिसके बाद परिजनों को रोका गया। खंड स्तरीय बाल विवाह प्रतिषेध अधिकारी क्षमा बहुगुणा ने बताया कि परिवार को आगे से ऐसा न करने की हिदायत दी गई है।

नाबालिग ने बताया की वह अभी शादी नहीं करना चाहती, बल्कि पढ़-लिखकर कुछ बनना चाहती है। वहीं, बड़ी बेटी ने कहा कि वह भी शादी के लिए तैयार नहीं थी, लेकिन शादी के बाद भी वह अपनी पढ़ाई जारी रखेगी। महिला कल्याण अधिकारी ने बताया कि यदि उन्हें अपनी शिक्षा पूरी करने में किसी तरह की कोई परेशानी लगे तो विभाग उनकी पूरी मदद करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here