बड़ी खबर। विदेश मंत्रालय का ड्राइवर हनीट्रैफ में फंसा, पाकिस्तान भेज रहा था सूचनाएं

arrestविदेश मंत्रालय के एक ड्राइवर को जासूसी के आरोप में पकड़ा गया है। ड्राइवर पर आरोप है कि वह पैसे के बदले पाकिस्तान में किसी जासूस को अहम सूचना और दस्तावेज भेजता था। सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने ड्राइवर को हनी-ट्रैप में फंसाया है। पुलिस और खुफिया एजेंसियों ने अब यह पता लगाने के लिए जांच शुरू की है कि क्या विदेश मंत्रालय में काम करने वाले और भी कर्मचारी इस मामले में शामिल हैं।

जानकारी के मुताबिक पूनम शर्मा नाम से एक पाकिस्तानी एजेंट इस ड्राइवर के संपर्क में था। जासूस ने इसे फंसाया और इससे जानकारी मंगवता था। ड्राइवर को इसके लिए पैसे भी मिलते थे। सूत्रों के अनुसार इस ड्राइवर का नाम श्रीकृष्ण है। बता दें कि उच्च पदों पर तैनात अधिकारी अक्सर हनी ट्रैप का शिकार हो जाते हैं।

आरोपी ड्राइवर के पास से कुछ लड़कियों की तस्वीर और वीडियो मिले हैं। मामले में अभी विदेश मंत्रालय के बयान का इतंजार है। इससे पहले बीते अगस्त के महीने में भी एक 46 वर्षीय व्यक्ति को पाकिस्तान के लिए जासूसी करने के आरोप में राजस्थान पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here