यूक्रेन में फंसे कुमाऊं के 60 लोग, सबसे ज्यादा इस जिले के लोग शामिल

हल्द्वानी : यूक्रेन पर रूस के हमले से भारत में हलचल मची हुई है। भारत के कई बच्चे वहां मेडिकल की पढ़ाई करने गए हैं। वो परेशान हैं. कोई बंकरों में छुपा है तो कोई हॉस्टल से बाहर नहीं निकल पा रहा है। इन भारतीयों में कई उत्तराखंड के बच्चे भी शामिल हैं जो पढ़ाई के लिए यूक्रेन गए हैं। बता दें कि वहां से भारतीयों को निकालने की कसरत तेज हो गई है। सरकार द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर और जिलाधिकारियों द्वारा मांगी गई सूची के आधार पर अभी तक कुमाऊं में 60 लोग सूचीबद्ध किए गए हैैं।

मिली जानकारी के अनुसार बागेश्वर जिले से कोई भी यूक्रेन में नहीं फंसा है। बाकी जिलों जिलाधिकारियों ने सूची शासन को भेज दी हैै। देर रात तक सूची अपडेट की गई। वहीं ऊधमसिंह नगर में दो छात्राओं की जानकारी सुबह पता चली, जिसे अपडेट किया जा रहा है।

शुक्रवार शाम तक प्रशासन को इमरजेंसी नंबरों पर मिली रिपोर्ट के अनुसार कुमाऊं के ही करीब 60 लोग यूक्रेन में हैं। इसमें सर्वाधिक संख्या 34 ऊधमसिंह नगर जिले से है। उसके बाद नैनीताल जिले से 19, पिथौरागढ़ जिले से दो, चम्पावत जिले से पांच तथा अल्मोड़ा जिले से एक व्यक्ति के यूक्रेन में होने की सूचना है। बागेश्वर जिला प्रशासन को एक भी सूचना जिलेभर से सूचना नहीं मिली। प्रशासन प्राप्त नामों की सूची शासन में इसके लिए नामित किए गए दो नोडल अधिकारियों को उपलब्ध करा रहा है। ताकि भारत सरकार के स्तर से इन लोगों को वहां से सुरक्षित भारत लाने की कार्यवाही की जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here