यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को निकालने जाएंगे मोदी सरकार के 4 मंत्री, पड़ोसी देशों में संभालेंगे मोर्चा

four ministers of modi government will go to rescue indian students trapped in ukraine

यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को वापस वतन लाने के लिए कवायद तेज हो गई है। केंद्र सरकार ने इसको लेकर आज बैठक की। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार केंद्र सरकार ने फैसला किया कि केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी, ज्योतिरादित्य सिंधिया, किरेन रिजिजू और वी के सिंह इस अभियान में समन्वय करने और छात्रों की मदद के लिए यूक्रेन के पड़ोसी देशों में जाएंगे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पीएम मोदी की अध्यक्षता में की गई बैठक में फैसला किया गया है कि देश के ये चार मंत्री बच्चों को वापस लाने में मदद करेंगे। देश के ये मंत्री भारत के ‘‘विशेष दूत’’ के तौर पर वहां जाएंगे। सिंधिया भारतीयों को यूक्रेन के निकालने के अभियान के लिए समन्वय का काम रोमानिया और मोल्दोवा से संभालेंगे जबकि रिजिजू स्लोवाकिया जाएंगे। उन्होंने बताया कि पुरी हंगरी जाएंगे और वी के सिंह भारतीयों को निकालने का प्रबंध करने के लिए पोलैंड जाएंगे।

बता दें कि पीएम मोदी की इस बैठक में विदेश मंत्री एस जयशंकर और वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल समेत कई मंत्री शामिल हुए। बैठक में यूक्रेन के पड़ोसी देशों के साथ सहयोग और बढ़ाने पर भी चर्चा हुई ताकि भारतीय छात्रों को युद्धग्रस्त देश से तेजी से बाहर निकाला जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here