33 साल के बाल रोग विशेषज्ञ को आया हार्ट अटैक, नहीं मिला इलाज, किया हायर सेंटर रेफर

बागेश्वर : उत्तराखंड में पहाड़ी जिलों के अस्पताल के हालात क्या है इसके कई उदाहरण देखने को मिल चुके हैं। पहाड़ी जिलों के अस्पताल मात्र रेफर सेंटर बन कर रह गए हैं। अब तक आम लोगों और ग्रामीणों को इसका खामियाजा भुगतना पड़ा है लेकिन अब खुद डॉक्टर को भी इसका सामना करना पड़ा। लोगों का इलाज करने वाले डॉक्टर को अपने ही अस्पताल में सही से इलाज नहीं मिला और उन्हें रेफर किया गया।

दरअसल बागेश्वर के जिला अस्पताल में तैनात बाल रोग विशेषज्ञ रविंद्र मेर 33 साल की उम्र में आर्ट अटैक आ गया। इस दौरान वो अपने आवास पर थे।उनके परिजन उन्हें तुरंत जिला अस्पताल लाए। जहां डाक्टरों में अफरातफरी मच गई। उनका उपचार किया लेकिन तबीयत बिगड़ने पर उन्हें हायर सेंटर रेफर करना पड़ा।

इस पर कांग्रेस ने जमकर सत्ताधारी भाजपा सरकार पर हमला किया। पूर्व विधायक ललित फर्स्वाण, पूर्व जिपंअ हरीश ऐठानी ने कहा कि अगर जिला अस्पताल से डॉक्टर को रेफर किया जा रहा है, तो आम आदमी का क्या हाल होगा इसका अंदाजा लगाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि भाजपा केवल बयानबाजी करती है। धरातल पर असल में डंबल इंजन की सरकार फेल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here