29 लोगों ने 9 महीने तक किया 15 साल की लड़की से गैंगरेप, 2 नाबालिग भी शामिल

अश्लील वीडियो बनाकर एक नाबालिग लड़की के साथ 9 महीने तक 29 लोगों ने गैंगरेप किया गया जिसमे दो नाबालिग भी शामिल हैं. कितना डरावना और खौफनाक मंजर होगा जब दरिंगे एक बच्ची को अपनी हवस का शिकार बना रहे होंगे। देश में रेप की घटनाएं लगाकर बढ़ रही है और कई आरोपी खुले आम घूम रहे हैं।

मिली जानकारी के अनुसार मामला महाराष्ट्र के पुणे का 22 सितंबर का है जहां नाबालिग लड़की (15) से दोस्ती के नाम पर पहले एक लड़के ने उसका अश्लील वीडियो बनाया और इसके बाद उसी वीडियो को अपने करीबी दोस्त को भेज दिया. फिर उसी दोस्त ने इन वीडियो को अपने दोस्तों के ग्रुप में भेज दिया. इसके बाद तो उसी वीडियो को दिखाकर 29 लड़के ब्लैकमेल करते हुए पीड़िता से गैंगरेप करते रहे. उस वीडियो के जरिए और लोग भी लड़की को ब्लैकमेल कर रहे हैं.

वहीं इससे परेशान होकर नाबालिग पीड़िता ने 22 सितंबर की रात थाणे के डोंबिवली के मानपाड़ा थाने में पुलिस से शिकायत की. मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने 23 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इनमें दो नाबालिग आरोपी भी शामिल हैं. जबकि अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है.

अतिरिक्त पुलिस आयुक्त दत्तात्रेय कराले ने बताया कि पीड़िता ने पुलिस से पिछले 9 महीनों की आपबीती सुनाई. जिसे सुनकर हर कोई दंग रह गया. उस लड़की ने बताया कि कैसे एक वीडियो के जरिए उसे ब्लैकमेल करते हुए 29 लोगों ने उसके साथ रेप किया. इन आरोपियों में 2 नाबालिग लड़के भी शामिल हैं. पीड़िता ने बताया कि पहला आरोपी उसका दोस्त ही था. उसी ने पहले उसके साथ की एक अश्लील वीडियो बना ली थी. इसके बाद उसने अपने दोस्तों को दे दिया था. इसके बाद उसके दोस्त ब्लैकमेल करते हुए कभी डोंबिवली तो कभी रबाले, मुरबाद, बदलापुर और कुछ अन्य स्थानों पर लड़की को बुलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया. पुलिस ने गैंगरेप के साथ पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज किया है. इस मामले में एसीपी सोनाली डोले को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है. दो नाबालिग सहित 23 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

पीड़िता ने पुलिस को बताया है कि उसने कई बार विरोध किया. तब उसके साथ उन लड़कों ने कई बार पिटाई की भी की थी. जिससे उसके शरीर पर चोट के निशान भी थे. उसकी हालत देखते हुए पुलिस ने लड़की को अस्पताल में भर्ती कराया. जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है. पुलिस ने फोरेंसिक टीम की मदद से घटनाओं के सबूत की जुटा रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here