VIDEO : अधिकारी की मनमानी, असिस्टेंट रखकर खुद गायब, दफ्तर में चल रहा घूसखोरी का खेल

लक्सर : उत्तराखंड की भाजपा सरकार भ्रष्टाचार पर वार करने का दावा करते आ रही है। और ये सही भी साबित हुई है। भाजपा के कार्यकाल में कई भ्रष्टाचारी अधिकारियों और कर्मचारियों को सलाखों के पीछे भेजा गया है जो आज भी जेल का खाना का रहे हैं। लेकिन फिर भी भ्रष्टाचार पर लगाम नहीं लगी है। दफ्तरों में अधिकारी मनमानी कर रहे हैं और जनता को लूटकर अपनी जेबें गरम कर रहे हैं। ताजा मामला लक्सर का है जहां एक व्यक्ति ने परेशान होकर खुद की वीडियो बनाकर भ्रष्टाचार की पोल खोली और वीडियो वायरल की है।

लक्सर के ब्लॉक दफ्तर का मामला

बता दें कि मामला लक्सर के ब्लॉक दफ्तर का है जहां एक युवक ने ग्राम विकास अधिकारी अंकित राठी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। राठी पर सरकारी काम करने के लिए अनऑथराइज्ड रूप में अपना असिस्टेंट रखने का आरोप है जो की उससे ही काम करवाते हैं। एक पीड़ित व्यक्ति ने अपना खुद का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल किया है जारी किया।

मां का मृत्यु प्रमाण पत्र बनाने आए व्यक्ति से मांगी घूस

इस वीडियो में पीड़ित व्यक्ति ने बताया कि उसका नाम योगेश है. वह लक्सर क्षेत्र के झीवरहेड़ी गांव का रहने वाला है। उसकी मां की मृत्यु 22 सितंबर को हो गई थी। उसे अपनी मां के मृत्यु प्रमाण पत्र की बेहद जरूरत थी। जिसके लिए उसने लक्सर ब्लॉक में आवेदन किया था। लेकिन इस सर्कल के ग्राम विकास अधिकारी अंकित राठी तो खुद मौजूद नहीं रहते उन्होंने सरकारी काम के लिए एक असिस्टेंट रखा हुआ। आरोप है उस असिस्टेंट ने मृत्यु प्रमाण पत्र बनाने की एवज में ₹500 की रिश्वत ली और तब भी काम नहीं किया।

पीड़ित ने आरोप लगाया है कि जब ग्राम विकास अधिकारी के असिस्टेंट से उसने प्रमाण पत्र बनवाने की बात कही तो उसने उसके साथ अभद्रता की। खबर है कि ये क्षेत्र में पहला मामला नहीं है बल्कि इससे पहले भी रिश्वत लेने के कई मामले सामने आ चुके हैं लेकिन शासन प्रशासन मौन है और जनता परेशान है। इस वीडियो के जरिए पीड़ित ने सीएम से गुहार लगाई है. सीएम पर सबको भरोसा है कि वो इस पर एक्शन जरुर लेंगे।बता दें कि घूस देना और लेना दोनों ही गलत है और अपराध है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here