यूक्रेन में फंसे लोगों की मदद के लिए उत्तरकाशी प्रशासन और पुलिस ने जारी किए हेल्पलाइन नंबर,फोन कर दें सूचना

उत्तरकाशी : रूस ने यूक्रेन पर हमला कर दिया है। कई शहर तबाह हो गए। हर कोई अपनी जान बचाने के लिए इधर उधर छुपा हुआ है। कोई बंकर में छुपा है तो कोई घरों में दुबके हुए हैं। यूक्रेन के कई शहर तबाह हो गए हैं। किसी के पास खाने को नहीं है तो किसी के पास पैसे नहीं हैं। बता दें कि यूक्रेन में कई भारतीय भी फंसे हुए हैं जिनमे कई उत्तराखंड के लोग भी शामिल है। बच्चों के अभिभावक परेशान हैं. उनके बच्चे वहां मेडिकल की पढ़ाई करने गए थे लेकिन अब मां पिता चिंतित हैं। शासन ने सभी जिलों के डीएम और कप्तानों को हेल्पलाइन नंबर जारी करने और यूक्रेन में फंसे लोगों की जानकारी जुटाने के निर्देश दिए हैं ताकि एक सही आंकड़ा पता चल सके और उनको वापस लाने में आसानी हो।

उत्तरकाशी जिला प्रशासन और उत्तरकाशी पुलिस ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

इसी कड़ी में उत्तरकाशी जिला प्रशासन और उत्तरकाशी पुलिस ने भी हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। यूक्रेन में फंसे लोगों की जानकारी जुटाने और उन्हें सकुशल उत्तराखंड वापस लाने के लिए उत्तराखंड जिला प्रशासन और पुलिस ने हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं।यूक्रेन में फंसे अपने परिजनों, बेटा बेटी या सगे संबंधियों की जानकारी आप उत्तरकाशी पुलिस और प्रशासन को नीचे दिए गए नंबरों पर दे सकते हैं।

पुरोला समेत उत्तरकाशी के कुल मिलाकर 7 बच्चे यूक्रेन में फंसे हुए हैं

अब तक मिली जानकारी के अनुसार पुरोला समेत उत्तरकाशी के कुल मिलाकर 7 बच्चे यूक्रेन में फंसे हुए हैं। वहीं शासन द्वारा मदद के लिए सरकार ने दो अधाकारी पुलिस उपमहानिरीक्षक पी. रेणुका देवी और पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार को नोडल अधिकारी नामित किया है.

उत्तराखंड प्रशासन और पुलिस ने किए नंबर जारी

उत्तरकाशी पुलिस ने जानकारी साझा करते हुए कहा कि युक्रेन में आपातकाल की स्थिति के कारण युूक्रेन में फंसे नागरिकों/Students की सहायता हेतु उत्तरकाशी प्रशासन व पुलिस द्वारा हेल्पलाईन नम्बर जारी किये गये हैं। सहायता एवं जानकारी हेतु सम्पर्क करें
सीएम धामी ने की निवासरत लोगों के परिजनों से बात

बताया गया कि जारी किये गये टोल फ्री नम्बर 112 पर अभी तक यूक्रेन में निवासरत 95 लोगों के परिजनों ने सम्पर्क किया है। सीएम धामी ने यूक्रेन में निवासरत लोगों के कुछ परिजनों से भी फोन पर बात की है. मुख्यमंत्री ने परिजनों से धैर्य बनाए रखने की अपील की. उन्होंने कहा कि पैनिक होने की आवश्यकता नहीं है. राज्य सरकार विदेश मंत्रालय के लगातार सम्पर्क में है. भारत सरकार यूक्रेन में रह रहे भारतीय नागरिकों की सुरक्षित वापसी के लिये हर सम्भव प्रयास कर रही है.

👇🏻

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here