उत्तराखंड : भैया दूज मनाकर लौट रहा था परिवार, दर्दनाक हादसे में पति-पत्नी और मासूम बेटे की मौत

 

पिथौरागढ़: उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में एक दर्दनाक हादसा हुआ है। यहां एक कार नेशनल हाइवे में दुर्घनाग्रस्त हो गई। यह कार हल्द्वानी से पिथौरागढ़ आ रही थी। इस हादसे में एक ही परिवार के 3 लोगों की मौत हो गई। जबकि, 2 लोग घायल हुए हैं। दोनों घायलों को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। चुपकोट बैंड के पास 250 मीटर गहरी खाई में गिर गई। हादसे में भैया दूज मनाकर लौट रहे दंपती और उनके छह साल के बेटे की मौके पर ही मौत हो गई जबकि दो लोग घायल हो गए

जानकारी के अनुसार, शनिवार शाम टाटा नैक्सा कार यूके-4 एफ-3339  चुपकोट बैंड से आगे 250 मीटर गहरी खाई में गिर गई। हादसे में धनौड़ा निवासी कार चालक बलवंत सिंह जिमिवाल (37) पुत्र केदार सिंह, पूर्णिमा (32) पत्नी बलवंत सिंह जिमिवाल और भाव्यांश (06) पुत्र बलवंत सिंह जिमिवाल की मौके पर ही मौत हो गई

जानकारी के मुताबिक, पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय से 25 किमी. दूर चुपकोट बैंड के पास कार अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे दूसरी सड़क से भी गहरी खाई में जा गिरी। नीचे की सड़क से करीब 200 मीटर गहरी खाई में गिरने से कार के परखच्चे उड़ गए। इस हादसे में कार चालक बलवंत जिमवाल उम्र 36 वर्ष, उनकी पत्नी पूर्णिमा जिमवाल उम्र 32 वर्ष और 6 साल का बेटा भाव्यांश की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। जबकि, कार में सवार अन्य दो लोग सुरेंद्र बहादुर और नवनीत घायल हो गए।

इस हादसे के मृतक जिमवाल परिवार मूूल रूप से ओगला का रहने वाला था। वर्तमान में परिवार जिला मुख्यालय के रई वार्ड में रह रहा था। मृतक शिक्षक रानीखेत के राजकीय इंटर कालेज बासकोट में तैनात थे। उनकी पत्नी पिथौरागढ़ में ही गेस्ट टीचर थी। परिवार दीपावली मनाने के लिए अपने परिजनों के पास हल्द्वानी गया था और शनिवार को वापस लौट रहा था। वहीं, हादसे की सूचना मिलते ही तहसीलदार पंकज चंदोला, कोतवाल प्रभात कुमार और एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची। एसडीएआरफ के जवानों ने गहरी खाई में उतरकर मृतकों और घायलों को खाई से बाहर निकाला।

घायल सुरेंद्र बहादुर और नवनीत को जिला चिकित्सालय लाया गया। सुरेंद्र सेना के और नवनीत एसएसबी के जवान हैं। सुरेंद्र को देर सायं सेना चिकित्सालय भेज दिया गया जबकि नवनीत का जिला चिकित्सालय में उपचार चल रहा है। हादसे के कारणों की जांच की जा रही है। घायलों और मृतक परिवार के बीच कोई संबंध नहीं होना बताया गया है। बताया जा रहा है कि, जवानों को शिक्षक ने वाहन में लिफ्ट दी थी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here