अब अधीनस्थ सेवा चयन आयोग कराएगा पुलिस भर्ती, पदोन्नति लेने से इंकार करने पर तबादला अनिवार्य

देहरादून : बीते दिन देर शाम कैबिनेट बैठक खत्म हुई। त्रिवेंद्र मंत्रिमंडल में 17 प्रस्ताव आए और 17 प्रस्तावों मुहर लगी। इन 17 फैसलों में से एक अहम फैसला लिया पुलिस भर्ती के लिए। जी हां बता दें कि अब अधीनस्थ सेवा चयन आयोग पुलिस की भर्ती और हेड कांस्टेबल पद पर पदोन्नति परीक्षा कराएगा। बाकी शारीरिक परीक्षा पुलिस द्वारा ही कराई जाएगी। बता दें कि इसके लिए कैबिनेट ने उत्तराखंड पुलिस आरक्षी (नागरिक पुलिस, अभिसूचना एवं सशस्त्र पुलिस) सेवा संशोधन नियमावली को मंजूरी दे दी है।

आपको बता दें कि कैबिनेट में मंजूरी मिलने के बाद अब सिपाहियों की परीक्षा अधीनस्थ सेवा चयन आयोग कराएगा और इसके लिए आयोग में ही आवेदन किया जाएगा। लिखित परीक्षा भी आयोग कराएगा जबकि शारीरिक परीक्षा पुलिस द्वारा कराई जाएगी। पुलिस शारीरिक परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों की सूची आयोग को उपलब्ध कराएगा। इसके बाद आयोग लिखित और शारीरिक परीक्षा के अंक जोड़कर परीक्षा परिणाम जारी करेगा। ये भी साफ किया गया है कि पदोन्नति के 50 फीसद पद विभागीय परीक्षा से भरे जाएंगे। इनमें वही शामिल होंगे, जिनकी आयु 45 साल से अधिक न हुई हो। बता दें कि इसी के साथ फैसला लिया गया है कि पदोन्नति लेने से इंकार करने वालों का भी अनिवार्य रूप से तबादला किया जाएगा। पदोन्नति प्रक्रिया के दौरान नागरिक पुलिस, अभिसूचना और सशस्त्र पुलिस के कर्मियों की ज्येष्ठता सूची संवर्गवार तय की जाएगी। किसी मामले में दंडित कार्मिक के अपील करने उसे सशर्त पदोन्नति परीक्षा में शामिल किया जाएगा। उसके परिणाम का लिफाफा बंद कर दिया जाएगा यह केवल निर्णय आने के पश्चात ही खोला जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here