उत्तराखंड: कर्मकार कल्याण बोर्ड में बवाल, बैठक में तनातनी, सचिव ने छोड़ी बैठक, अब क्या करेंगे हरक?

देहरादून: उत्तराखंड भवन सन्निर्माण एवं कर्मकार कल्याण बोर्ड फिर चर्चाओं में है। श्रम मंत्री हरक सिंह रावत के मंत्रालय के यह विभाग वैसे तो हमेषा ही खबरों में रहता है, लेकिन पिछले कुछ समय से ज्यादा ही चर्चा में है। कल हुई बोर्ड बैठक में जमकर हंगामा हुआ। वर्चुअल बैठक में अध्यक्ष और सचिव के बीच तनातनी हो गई। गलत ढंग से बात करने से नाराज सचिव ने बीच में ही बैठक छोड़ दी।

बोर्ड के अध्यक्ष शमशेर सिंह सत्याल ने बोर्ड की वर्चुअल बैठक बुलाई थी। बैठक में सचिव मधु नेगी चैहान भी शामिल हुईं। बताया जा रहा है कि अध्यक्ष और सचिव के बीच तनातनी चल रही है। अध्यक्ष लगातार सचिव को हटाने के लिए मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव को पत्र भेज रहे हैं। इसके चलते तल्खी के और बढ़ने का अनुमान पहले ही लगाया जा रहा था। हुआ भी कुछ ऐसा ही।

अध्यक्ष और सचिव के बीच विवाद बढ़ता चला गया। दोनों के बीच काफी तीखी बहस भी हुई। इस विवाद के बीच सचिव मधु नेगी चैहान ने बीच में ही बोर्ड बैठक छोड़ दी। बैठक के बाद अध्यक्ष शमशेर सिंह सत्याल ने सचिव को कार्यमुक्त करने का आदेश जारी कर दिया। उनके स्थान पर देहरादून के उप श्रमायुक्त को सचिव का कार्यभार देने का आदेश भी जारी कर दिया गया।

सचिव मधु नेगी चैहान का कहना है कि पहले बात तो यह है कि नियम के हिसाब से सचिव बोर्ड बैठक बुलाते हैं और इसमें सभी सदस्यों का कोरम पूरा होना चाहिए। यह बैठक अध्यक्ष ने बुलाई और कोरम भी पूरा नहीं था। मैं लगातार एजेंडे पर बात करने पर जोर देती रही, लेकिन कोई सुनने को तैयार ही नहीं हुआ। गलत तरीके से बात की तो मैंने बैठक छोड़ दी। इससे पहले भी अध्यक्ष ने खुद ही बैठक बुलाई और खुद ही नियम विरुद्ध मिनट्स भी जारी किए। सचिव को कार्यमुक्त करने का अधिकार सरकार को है। सरकार जो निर्देश देगी, मैं उसका अनुपालन करूंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here