उत्तराखंड : ट्रेन से आने वाले यात्रियों को लानी होगी कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट, वरना इंट्री बैन

देहरादून : बीते दिन सरकार ने कुंभ मेले को लेकर एसओपी जारी की थी जिसमे साफ किया गया कि जो भी श्रद्धालु रेल से सफर कर स्नान के लिए हरिद्वार आएगा उनके लिए कोरोना जांच की रिपोर्ट लानी अनिवार्य है वो भी निगेटिव रिपोर्ट वरना ट्रेन में इंट्री नहीं मिलेगी। बता दें कि कुंभ में भीड़ बढ़ने की संभावना को देखते हुए औऱ कोरोना के कहर को देखते हुए सरकार सहित रेलवे ने ये फैसला लिया है ताकि राज्य में कोरोना संक्रमण न फैले।

उत्तर रेलवे के मुरादाबाद मंडल के डीआरएम तरुण प्रकाश ने कहा कि कुंभ में ट्रेन से आने वाले यात्रियों को आरटीपीसीआर जांच की नेगेटिव रिपोर्ट लानी होगी। इसके लिए सभी को रेलवे की ओर से मैसेज भी भेजे जा रहे हैं। आरटीपीसीआर जांच की नेगेटिव रिपोर्ट वाले यात्री को ही ट्रेन में प्रवेश  दिया जाएगा। डीआरएम ने कहा कि वर्तमान में करीब 25 जोड़ी ट्रेनें चलाई जा रही हैं। राज्य सरकार की ओर से रेलवे को फिलहाल कोई भी नई ट्रेन चलाने के लिए मना किया गया है। जिस वजह से फिलहाल इतनी ही ट्रेनें चलाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि हरिद्वार रेलवे स्टेशन के अलावा लक्सर, ज्वालापुर, मोतीचूर और ऋषिकेश रेलवे स्टेशनों तक कंट्रोल रूम से नजर रखी जा रही है। एडीआरएम इंफ्रास्ट्रक्चर एनएन सिंह ने कहा कि स्थानीय यात्रियों के लिए क्या व्यवस्था होगी, इसको लेकर राज्य सरकार के साथ बैठक की जा रही है।

हरिद्वार कुंभ मेले के दौरान स्नान को अधिकतम 20 मिनट का समय मिलेगा। एसओपी में साफ किया गया है कि 65 वर्ष से अधिक उम्र के लोग स्नान के लिए ना आएं।वहीं कुंभ मेले में संगठित रूप से भजन, गायन और भंडारे के आयोजन पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here