उत्तराखंड : EVM में कैद हुई 632 प्रत्याशियों की किस्मत, अब 10 मार्च का इंतजार, 203 पर FIR दर्ज

देहरादून : उत्तराखंड में सुबह होते ही मतदान को लेकर लोगों में जागरूकता देखी गई। लोगों ने बढ़ चढ़कर मतदान के प्रति उत्साह दिखाया और वोट किया। मतदान करने के साथ ही शारीरिक रूप से अक्षम और बुजुर्गें लोगों में भी वोट के लिए उत्साह देखने को मिला। वहीं बता दें कि शाम 5 बजे तक 59.37 प्रतिशत मतदान हुआ।

इसके बाद मुख्य निर्वाचन अधिकारी सौजन्या ने पत्रकार वार्ता की। उत्तराखंड में शांतिपूर्वक ढंग से मतदान किया गया।शाम 6:00 बजे तक वोटिंग हुई। मुख्य निर्वाचन अधिकारी सौजन्या ने जानकारी दी कि शाम 6 बजे तक जितने मतदाता पोलिंग बूथ पर होंगे उनको टोकन दिए जाएंगे। वहीं 6 बजे के बाद ईवीएम मशीनों को सील किया जाएगा। इसी के साथ अब पोलिंग मशीनों को स्ट्रांग रूम में रखा जाएगा और मतदान की गिनती होगी और रिजल्ट घोषित होगा।

वहीं मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने जानकारी दी कि सीसीटीवी की नजर वोटिंग मशीनों में रहेगी। जानकारी मिली है कि स्ट्रांग रूम के बाहर 3 लेयर में सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। पहली लेयर में सीआरपीएफ उसके बाद आर्म्ड फोर्स तीसरी लेयर पुलिस की रहेगी। बाहर से डिस्प्ले सिस्टम भी रहेगा ताकि पारदर्शिता बनी रहे। पोलिंग के दौरान नैनीताल में एक व्यक्ति को हार्ट में दिक्कत हुई जिसके बाद डीएम द्वारा तुरंत उनको उचित स्वास्थ्य सुविधा के लिए हल्द्वानी भेजा गया। पोलिंग के दौरान 203 एफआईआर दर्ज हुई।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने जानकारी दी कि राज्य में आचार संहिता लगने के बाद अब तक 18.80 करोड़ रुपये के बरामदगी हुई है। जो 2017 के चुनावों के मुकाबले तीन गुना ज़्यादा है. आचार संहिता के उल्लंघन पर आज 203 FIR दर्ज़ हुई हैं और कोविड दिशा निर्देशों के उल्लंघन पर 92 हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here