उत्तराखंड से बड़ी खबर, सरकार बनाने में होगी देरी, फंसा ये पेंच, CM चेहरा नहीं ये है बड़ा कारण

देहरादून : बीते दिन शुक्रवार को सीएम धामी ने राजभवन पहुंचकर राज्यपाल एसएस संधू को अपना इस्तीफा सौंपा. इस दौरान सीएम धामी के साथ उनके साथी यतीश्वरानंद, संजय गुप्ता, गणेश जोशी अरविंद पांडे, सतपाल महाराज मौजद रहे।

भले ही सीएम धामी हार गए लेकिन उत्तराखंड में भाजपा ने बहूमत हासिल किया और सत्ता कब्जाने में कामयाब रही। अब पेंच सीएम पद को लेकर फंस गया है क्योंकि जिस युवा सीएम के चेहरे पर भाजपा चुनाव लड़ी वो हार गया अब किसे सीएम की कुर्सी पर बैठाया जाए, भाजपा के लिए अब ये बड़ा सिरदर्द वाला काम बन गया है क्योंकि सीएम की कुर्सी पर उसका बैठाना जरुरी है जिससे संगठन मजबूत हो। सीएम को लेकर मंथन चल रहा है लेकिन इस बीच एक पेंच फंस गया है जिस कारण सरकार थोड़ी लेट बनेगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार देरी से सरकार बनने का कारण होलाष्टक माना जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार 10 मार्च से होलाष्टक लग रहा है जो अगले आठ दिन होली तक रहेगा। जिस कारण खबर है कि होलाष्टक होने के कारण सरकार का गठन होने में देरी हो सकती है क्योंकि होलाष्टक के दौरान मंगल और शुभ कार्य नहीं होते हैं। सीएम धामी अभी कार्यवाहक सीएम के रुप में काम करेंगे। अगला सीएम कौन होगा इस पर मंथन जारी है।

खबर आई कि विधायकों से ही सीएम चुना जाएगा लेकिन इस बीच कई दिग्गजों के नाम भी सामने आ रहे हैं जिनको सीएम की कुर्सी पर बैठायाजा सकता है। इनमे अजय भट्ट, रमेश पोखरियाल निशंक, अनिल बलूनी का नाम शामिल है। मांग तो सीएम धामी को भी फिर से सीएम बनाने की उठ रही है लेकिन हाईकमान क्या फैसला लेता है ये कुछ दिनों में पता चल जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here