उत्तराखंड शासन का बड़ा फैसला, 30 दिन का होगा कुंभ मेला, नहीं चलेंगे अतिरिक्त ट्रेनें

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए और केंद्र सरकार की गाइडलाइन को देखते हुए अब हरिद्वार में होने वाले कुंभ की अवधि घटा दी गई है। जी हां बता दें कि अब एक अप्रैल से शुरू होने वाला कुंभ सिर्फ 30 दिन का होगा। मुख्य सचिव ओमप्रकाश की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय बैठक में यह फैसला लिया गया है। जल्द ही कुंभ मेले के संबंध में अधिसूचना जारी की जाएगी। पहले कुंभ मेले के अवधि 27 फरवरी से 27 अप्रैल तक प्रस्तावित की गई थी।

लेकिन बता दें कि सरकार के इस फैसले का विरोध शुरु हो गया है। संत समाज ने इस फैसले का विरोध किया है। संतों ने कहा कि उत्तराखंड शासन और मेला प्रशासन कुंभ को कैसे सीमित कर सकता है, ये हिंदुओं की आस्था से जुड़ा हुआ है.

इस फैसले के साथ ही ये भी फैसला लिया गया है कि अब कुंभ मेले के लिए अतिरिक्त ट्रेनें नहीं चलाई जाएगा। उत्तराखंड शासन की तरफ से कुंभ मेले को लेकर अभी तक नोटिफिकेशन जारी नहीं किया गया है जल्द एसओपी जारी किया जाएगा. मगर अब सरकार कुंभ को सीमित करने जा रही है. कुंभ अब एक महीने का किया जाएगा इसको लेकर मुख्य सचिव ने भी बयान भी जारी किया है. उन्होंने साफ कहा कि कुंभ मेले में अतिरिक्त ट्रेनें और बसें नहीं चलाई जाएंगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here