बुरी खबर : ब्लास्ट में BSF का जवान शहीद, जन्मदिन से पहले आई शहादत की खबर, घर में कोहराम

देश के लिए बुरी खबर है। बता दें कि मंगलवार रात जैसलमेर के पोखरण के लाठी-पोखरान में युद्धाभ्यास के दौरान महाराष्ट्र, अकोला का लाल सतीश कुमार चाहर शहीद हो गया। बेटे की शहादत की खबर से घर में कोहराम मचा हुआ है। शहीद की पत्नी और बेटी का रो रोकर बुरा हाल है। बता दें कि शहीद जवान 31 साल के थे और 10 मार्च को उनका जन्मदिन था। घरवाले और खुद सतीश अपने जन्मदिन मनाने की तैयारी कर रहे थे लेकिन उससे पहले उनकी शहादत की खबर घर पहुंची। जानकारी मिली है कि बीएसएफ में सिपाही सतीश युद्धाभ्यास कर रहे थे। इस दौरान फायरिंग रेंज में तोप की बैरल फटने से उनकी जान चली गई। इस हादस में चार जवान घायल हो गए हैं जिनका इलाज चल रहा है।।बेटे की शहादत की खबर से गांव में शोक की लहर दौड़ पड़ी।

सतीश 2010 में बीएसएफ में हुए थे भर्ती, चार जवान घायल

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मंगलवार रात 11 बजे सतीश के दोस्त को सूचना मिली कि हादसे में चार जवान घायल हुए हैं। सतीश और इन चारों को अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने सतीश को मृत घोषित कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार सतीश अगस्त 2010 में बीएसएफ में भर्ती हुए थे। इस समय उनकी तैनाती गुजरात के भुज में थी जो की युद्धाभ्यास के लिए पोखरण गए थे। बता दें कि सतीश की मौत की खबर से बाजार  बंद रहा और पूरे गांव में किसी के घर चूल्हा नहीं जलाया गया।

छोटा भाई एयरफोर्स में

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सतीश चाहर का 10 मार्च को 31वां जन्मदिन मनाया जाना था। सतीश के जन्मदिन का परिवार वालों को बेसब्री से इंतजार था। सतीश चार भाई और दो बहनों में सबसे बड़े थे। परिवार वाले 10 मार्च का इंतजार कर रहे थे कि जन्म दिन धूमधाम से मनाएंगे लेकिन उससे पहले बेटे की शहादत की खबर आई। सतीश का एक भाई गुरुदेव सिंह (22) एयरफोर्स में है। सतीश और उनके छोटे भाई सोनवीर की शादी 9 साल पहले मथुरा के बछगांव से हुई थी। सतीश की पत्नी और एक बेटी है जिनका रो रोकर बुरा हाल है। घर में कोहराम मचा हुआ है और गांव में शोक की लहर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here