क्या उत्तराखंड भाजपा में आ सकता है UP जैसा भूचाल? कई विधायक कांग्रेस के सम्पर्क में-सूत्र

देहरादून : उत्तराखंड में चर्चाएं तेज हो गई है। बीते दिन कांग्रेस ने पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय को सभी पदों से हटाया तो वहीं भाजपा से खबर है कि लैंसडाउन से विधायक कांग्रेस का दामन थाम सकते हैंं। चुनाव नजदीक आते ही तमाम दिग्गज नेता और मंत्री-विधायकों में टिकट को लेकर हलचल मची है। हर कोई मनमर्जी सीट से टिकट मांग रहा है।  लेकिन पार्टी कौनसा फॉर्मूला अपनाती है और प्रत्याशियों के नाम का ऐलान करती है ये पार्टी हाईकमान तय करेगी लेकिन जिस तरह से यूपी भाजपा में भूचाल आया है इससे सवाल उठ रहा है कि क्या प्रत्याशियों के नामों के ऐलान से पहले उत्तराखंड में भी भूचाल आ सकता है?

सूत्रों के हवाले से भाजपा के लिए बड़ी खबर

ये बात हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि सूत्रों के हवाले से जो खबर है वो उत्तराखंड भाजपा के लिए झटके भरी हो सकती है। जी हां सूत्रों के हवाले से खबर है कि लैंसडाउन से भाजपा विधायक दिलीप सिंह रावत कांग्रेस के सम्पर्क में हैं। सूत्रों के हवाले से खबर ये भी है कि लैंसडाउन से भाजपा विधायक दिलीप सिंह रावत के साथ पौड़ी के कई और विधायक कांग्रेस के सम्पर्क में हैं। सूत्रों के हवाले से आई खबर से ये सवाल उठ रहा है कि क्या उत्तराखंड की राजनीति में भी यूपी जैसा भूचाल मचेगा? जी हां क्योंकि सूत्रों के हवाले से खबर है कि लैंसडाउन से विधायक दिलीप सिंह रावत कांग्रेस के सम्पर्क में है। इसी के साथ कई और पौड़ी के विधायक कांग्रेस के सम्पर्क में है।

हरक के खिलाफ खोला मोर्चा

बता दें कि लैंसडाउन से भाजपा के विधायक दिलीप रावत ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर वन विभाग में हो रहे निर्माण कार्यों में अनियमितता और भ्रष्टाचार की बात कही है, साथ ही पूरे मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है. हरक और दिलीप सिंह रावत के बीच रार सबके सामने आ चुकी है।

वहीं दूसरी ओर हरक सिंह रावत लैंसडाउन विधानसभा में सक्रिय हैं। अपनी बहू अनूकृति को चुनाव के मैदान में उतारना चाहते हैं। सवाल उठ रहा है कि क्या लैंसडाउन से हरक सिंह रावत की बहू दावेदारी पेश करेंगी और हरक बहू के लिए पार्टी से टिकट मांग रहे हैं? क्योंकि जिस तरह से खबर आ रही है कि दिलीप सिंह रावत कांग्रेस के सम्पर्क में है इससे सवाल उठ रहा है कि अंदरखाने बहुत कुछ चल रहा है। क्या दिलीप सिंह रावत पार्टी से नाराज हैं? क्या पार्टी हरक सिंह को टिकट देगी?

क्या लैंसडाउन से टिकट ना मिलने से नाराज दिलीप सिंह रावत कांग्रेस ज्वॉइन करेंगे? बता दें कि सूत्रों के हवाले से जो खबर मिली है उससे भाजपा समेत कांग्रेस में हलचल मच गई है। हरक सिंह रावत लगातार अपनी बहू के लिए टिकट मांग रहे हैं. इससे सवाल उठ रहा है कि क्या वो अपनी बहू के लिए लैंसडाउन से पार्टी से टिकट मांग रहे हैं? इस खबर में कितनी सच्चाई है वो प्रत्याशियों के नामों के ऐलान से पहले सामने आ जाएगी।

1 COMMENT

  1. बीजेपी एक बड़ी और अनुशासित पार्टी है और UP में जो बीजेपी को छोड़ कर जा रहे हैं वे सभी दूसरे दलों से bjp में आये हुए हैं, ये भी निश्चित है कि इन नेताओं के टिकट कटने वाले हैं तो टिकट न मिलने के डर से वे दूसरी पार्टियों में जा रहे हैं।
    जहां तक उत्तराखंड की बात है तो यहां भी ये पक्का है कि कुछ sitting विधायकों के टिकट कटने तय हैं और कुछ के पारिवारवाद को बढ़ावा नहीं मिलने वाला है तो ये भी पार्टी छोड़ कर जा सकते हैं but जायेंगे कहाँ.. क्योंकि UK में bjp में अब तक कोई strong बड़ा नेता नहीं है इसलिए भी इनके नखरे जारी हैं.. हाँ यदि bjp नें इनकी मांग मानकर टिकट बाँटे तो पार्टी का बंटाधार तय है.. वैसे इनके जाने से bjp के भविष्य पर कोई फर्क शायद ही पड़े..।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here