नई शिक्षा नीति के साथ उत्तराखंड में खुलेंगे 206 पीएम श्री स्कूल

उत्तराखंड में पीएम-श्री (पीएम-स्कूल फार राइजिंग इंडिया) स्कीम को मंजूरी मिलने के बाद 206 स्कूल खुलेंगे। शिक्षा विभाग ने इसके लिए प्रत्येके ब्लॉक और नगर निगम क्षेत्र से सरकारी स्कूलों केा चयन कर लिया है। नोडल अधिकारी आकाश सारस्वत के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा के बाद देश भर में पीएम श्री स्कूल खोले जाएंगे।

उत्तराखंड में में 206 पीएम श्री स्कूल खुलेंने जा रहे हैं जिसकी तैयारी में शिक्षा विभाग ने इसके लिए प्रत्येक ब्लॉक और नगर निगम क्षेत्र से सरकारी स्कूलों का चयन कर चुका है। प्रदेश से चयनित होने के बाद अब केंद्र सरकार की ओर से इन स्कूलों को मिलने वाले अंकों के आधार पर आखिरी मुहर लगनी बाकी है। राज्य नोडल अधिकारी आकाश सारस्वत के अनुसार चयन किए गए सभी मॉडल स्कूल होंगे, और इनका ज्यादातर खर्च केंद्र सरकार की ओर से होगा।

उत्तराखंड में पीएम श्री स्कूलों को बनाए जाने के लिए शिक्षा विभाग ने 10 नवंबर को समग्र शिक्षा के उप राज्य परियोजना निदेशक आकाश सारस्वत को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। जिला स्तर पर मुख्य शिक्षा अधिकारी इसके नोडल अधिकारी होंगे। राज्य नोडल अधिकारी के मुताबिक प्रदेश के केंद्रीय विद्यालयों, जवाहर नवोदय विद्यालयों और राज्य सरकार की ओर से संचालित विभिन्न स्कूलों को पीएम श्री योजना में शामिल किया जाएगा।

साथ ही इन स्कूलों में उपलब्ध खेल मैदान, प्रयोगशाला, पुस्तकालय, कक्षा कक्ष, रेन वाटर हार्वेस्टिंग इत्यादि कई सुविधाओं को देखते हुए प्रत्येक ब्लॉक से एक सरकारी प्राथमिक स्कूल और एक माध्यमिक स्कूल को पीएम श्री स्कूल के रूप में प्रदेश के लिए चयन किया गया है। जबकि प्रत्येक नगर निगम से दो-दो स्कूलों का चयन भी किया गया है। नोडल अधिकारी के मुताबिक प्रदेश में इन स्कूलों के चयन के बाद इन स्कूलों का केंद्र सरकार के पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन होगा। स्कूलों में उपलब्ध सुविधाओं के आधार पर केंद्र सरकार द्वारा इन स्कूलों को पीएम श्री स्कूल घोषित किए जाएंगे।

राज्य नोडल अधिकारी के अनुसार प्रदेश में जिन जिलों के स्कूलों का चयन किया गया है। उन जिलों के मुख्य शिक्षा अधिकारियों को विभाग द्वारा इनके मानकों के संबंध में प्रशिक्षण दिया जा चुका है। उन्हें ये जानकारी दी गई है कि यदि कोई स्कूल केंद्र सरकार के किसी मानक को पूरा नहीं कर रहे हैं, तो उन्हें जल्द पूरा कर ले। राज्य नोडल अधिकारी के अनुसार प्रदेश में 206 स्कूलों के बाद अन्य स्कूलों को भी पीएम श्री के रूप में विकसित किया जाएगा।

गौरतलब है कि उत्तराखंड में अभी केंद्र और राज्य सरकार के स्कूलों के रूप में केंद्रीय विद्यालय, सैनिक स्कूल, जवाहर नवोदय विद्यालय, राजीव गांधी नवोदय विद्यालय, सरकारी प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालय, अटल उत्कृष्ट स्कूल, आश्रम पद्धति आदि स्कूल संचालित किए जा रहे हैं।

नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू करने पर ही मिलेगा लाभ

पीएम-श्री (पीएम-स्कूल फार राइजिंग इंडिया) स्कीम को मंजूरी देने के साथ ही केंद्र ने भले ही प्रत्येक ब्लाक के दो सरकारी स्कूलों को अपग्रेड करने का फैसला लिया है लेकिन इस स्कीम का लाभ राज्यों को तभी मिलेगा, जब वह नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) को लागू करने की गारंटी देंगे। इसे लेकर राज्यों को केंद्र के साथ एक समझौता करना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here