उत्तराखंड Exclusive : कल हरदा के खिलाफ की थी नारेबाजी, आज कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस भवन में कर दी पिटाई

देहरादून : उत्तराखंड कांग्रेस में बीते दिनों से धमासान मचा हुआ है। हरीश रावत के एक के बाद एक ट्वीट ने सियासी भूचाल ला दिया। उत्तराखंड के दिग्गज नेताओं को दिल्ली तलब किया गया है। आज हाईकमान ने बैठक बुलाई है जिसमे प्रीतम सिंह समेत हरीश रावत और गणेश गोदियाल शिरकत करने वाले हैं। इस बैठक पर सबकी निगाहें हैं। हरीश रावत के समर्थन में उनके समर्थकों ने सोशल मीडिया पर मोर्चा खोल दिया है। कांग्रेस इस मामले को निपटाने में लगी हुई है क्योंकि विधानसभा चुनाव है लेकिन इस बीच कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने एक और बवाल मचा दिया है वो भी कांग्रेस भवन के अंदर।

कांग्रेस भवन के अंदर प्रदेश महामंत्री की पिटाई

जी हां बता देें कि आज शुक्रवार को कांग्रेस भवन के अंदर कार्यकर्ताओं ने प्रदेश महामंत्री राजेंद्र शाह की पिटाई कर दी। आपको बता दें कि राजेंद्र शाह हरीश रावत सरकार के दौरान दर्जाधारी मंत्री भी रहे हैं। कांग्रेस भवन के अंदर सबके सामने कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस के पूर्व दर्जा धारी मंत्री और वर्तमान में प्रदेश महामंत्री राजेंद्र शाह पर मुक्के पर मुक्के दे मारे। वहां मौजूद कार्यकर्ता दोनों कार्यकर्ताओं को समझाते रहे। इससे वहां हलचल मच गई। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिससे एक बार फिर से सरकार की किरकिरी हो रही है।

हरीश रावत को अपशब्द कहने का लगाया आरोप और फिर की पिटाई

वहीं प्रदेश महामंत्री राजेंद्र शाह ने आरोप लगाते हुए कहा कि उन पर आरोप लगा है कि उन्होंने बीते दिन हरीश रावत के लिए अपशब्द कहे, लेकिन ये सरासर झूठ है। राजेंद्र शाह का आरोप है कि हरीश रावत के खिलाफ अपशब्द कहने का आऱोप लगाकर उनकी पिटाई की गई है। पिटाई करने वाले हरीश रावत के समर्थक है। राजेंद्र शाह ने कहा कि क्षेत्री नाम के लड़के ने कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर मुझे पीटा जो की शर्मनाक है। आरोप लगाया कि पिटाई करने वालों ने कहा कि जो हरीश रावत के खिलाफ बोलेगा उसे बख्शा नहीं जाएगा। राजेंद्र शाह ने कहा कि मेरी पिटाई करने वाले लोग हरीश रावत के साथ रहते हैं और उनके आदमी है।

कांग्रेस के लिए पिछले 21 साल से सड़क पर हूं, तन मन से काम किया -राजेंद्र

राजेंद्र शाह ने आरोपों से इंकार करते हुए कहा कि मैनें कभी हरीश रावत के खिलाफ बात नहीं की औऱ ना अपशब्द कहे।  कहा कि मुझे सबके सामने, मीडिया के सामने मारा। साफ तौर पर पिटाई करने वालों ने कहा कि अगर हरीश रावत के खिलाफ कुछ कहा तो सही नहीं होगा। राजेंद्र शाह ने कहा कि में कांग्रेस के लिए पिछले 21 साल से सड़क पर हूं. मैने हरीश रावत का ईमानदारी से साथ दिया और तन मन धन के साथ काम किया। प्रीतम सिंह के साथ और किशोर उपाध्याय के साथ कदम से कदम मिलाकर काम किया लेकिन ऐसा वातावरण कतई बर्दास्त नहीं किया जाएगा।

जानकारी मिली है कि जिनकी पिटाई की गई है बीते दिन वो हरीश रावत के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे और इसी बात से नाराज कार्यकर्ताओं ने आज राजेंद्र शाह की पिटाई कर डाली।जिन्होंने पिटाई की है, राजेंद्र शाह ने उन्हें हरीश रावत के आदमी बताया। हालांकि उन्होंने हरीश रावत के गुट का होने से साफ इंकार किया है। देखने वाली बात होगी की आखिर इस मामले का क्या हल निकलता है। क्या पिटाई करने वालों के खिलाफ संगठन कार्रवाई करेगा?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here