बड़ी खबर : उत्तराखंड STF की हैदराबाद में हत्यारों के साथ मुठभेड़, महिला गिरफ्तार, 1 फरार

 

देहरादून : साल 2019 में हरिद्वार के गंगनहर में ग्राम प्रधान कमरे आलम की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में दस-दस हज़ार के दो इनामी बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए टीमें Pजगह-जगह दबिश दे रही थी। जिसमे अब एसटीएफ और गंगनहर पुलिस को सफलता हाथ लगी। पुलिस को जानकारी मिली कि दोनों हैदराबाद में है जिसके बाद उत्तराखंड एसटीएफ ने तेलंगाना राज्य के हैदराबाद में दबिश दी और मुठभेड़ में एक इनामी बदमाश को गिरफ्तार किया। वहीं एक आऱोपी फरार हो गया है।

बता दें कि इस मामले में दो इनामी बदमाश वसीम पुत्र ननुवा निवासी किदवई नगर खालापार, मुजफ्फरनगर, यूपी और
समा परवीन पत्नी वसीम निवासी किदवई नगर खालापार, मुजफ्फरनगर, यूपी, फरार चल रहे थे। दोनों पति-पत्नी ग्राम प्रधान की हत्या के मामले में बीते दो साल से फरार चल रहे थे और तेलंगाना, हैदराबाद के सुलेमान नगर में इलाके में रह रहे थे। दोनों हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए संयुक्त टीम (एसटीएफ व गंगनहर पुलिस) ने हैदराबाद में दबिश दी. हत्या आरोपी और इनामी बदमाश को छुड़ाने में भीड़ और बदमाश के रिश्तेदारों ने पुलिस टीम पर अचानक हमला कर दिया। इनामी बदमाश से गुत्थमगुत्था और गिरफ्तारी के दौरान उत्तराखंड एसटीएफ टीम के आरक्षी चमन कुमार और थाना राजेन्द्र नगर पुलिस के आरक्षी फैयाज की आँखों पर लाल मिर्च डाल दिया गया जिससे एक आऱोपी वसीम फरार हो गया. जिसके बाद उत्तराखंड पुलिस ने  हैदराबाद के राजेंद्र नगर थाना, तेलंगाना पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

पुलिस पर हुए हमले के बाबजूद भी एसटीएफ उत्तराखंड और गंगनहर पुलिस 10 हज़ार के इनामी अभियुक्त की पत्नी समा परवीन को गिऱफ्तार करने में कामयाब हुई। वहीं पुलिस फरार आरोपी वसीम की गिरफ्तारी के लिए दबीश दे रही है।

फरार अभियुक्त..
वसीम पुत्र नैनवा किदवई नगर खालापार मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश के लिए एसटीएफ की टीम हैदराबाद और तेलंगना राज्य के विभिन्न स्थानों में दे रही दबिश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here