उत्तराखंड : कैंसर की बीमारी से हारे रिटायर्ड DIG, राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई

हल्द्वानी : रिटायर्ड डीआईजी पुष्कर सिंह सैलाल शनिवार को आखिरकार कैंसर की बीमारी का सामने करते हुए हार गए। शनिवार को पूर्व डीआईजी ने दिल्ली के धर्मशिला मयूर विहार स्थित अस्पताल में आखिरी सांस ली। बता दें कि वह 64 साल के थे और 2016 मेें डीआईजी कुमाऊं रेंज के पद से रिटायर हुए थे। उत्तराखंड में अपनी सेवाएं दी थी। वहीं रानीबाग स्थित चित्रशिला घाट पर उन्हें राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। इस दौरान डीआईजी जगत राम जोशी, एसएसपी सुनील कुमार मीणा और एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।

दो साल से चल रहा था कैंसर का इलाज 

बता दें कि पिथौरागढ़ जिले के धारचूला सेला गांव निवासी पुष्कर सिंह सैलाल रिटायर होने के बाद रामणी आन सिंह गांधी आश्रम लामाचौड़ में परिवार के साथ रह रहे थे। करीब दो साल से उनका कैंसर का इलाज चल रहा था। उनकी दो बेटियों है जिनकी शादी हो चुकी है। बेटा विक्की दिल्ली में प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहा है। दो भाइयों में पुष्कर सिंह सैलाल छोटे थे।

पुलिस पदक और राष्ट्रपति पदक से सम्मानित थे

पुष्कर सिंह सैलाल 1982 बैच के उत्तर प्रदेश काडर के पीपीएस अधिकारी थे। वह मेरठ, बुलंदशहर, रामपुर, सीतापुर, इटावा, नोएडा, हल्द्वानी, देहरादून, चमोली, चंपावत, हरिद्वार, 31 और 46 बटालियन पीएसी रुद्रपुर में विभिन्न पदों पर रहे। वह गढ़वाल के बाद डीआईजी कुमाऊं के पद पर भी रहे। उन्हें 2008 में भारतीय पुलिस का पदक मिला था। 2014 में उन्हें राष्ट्रपति का पुलिस पदक मिला था। उन्हें 1999 में पीपीएस से आईपीएस कैडर मिला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here